IPL 2022 के लिए 2 नई टीमें:दो महीने बाद टेंडर निकाल सकता है BCCI, पहले मई में होना था

Game

(www.arya-tv.com)कोरोना ने भारतीय क्रिकेट पर गहरा प्रभाव छोड़ा है। पहले इसकी वजह से IPL 2021 को बीच सीजन में सस्पेंड करना पड़ा। अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) 2022 सीजन के लिए 2 नई टीमों की घोषणा को भी आगे बढ़ाने की सोच रहा है। सूत्रों के मुताबिक बोर्ड अब जुलाई या अगस्त में टेंडर रिलीज कर सकता है। बोर्ड के मुताबिक फिलहाल उनका ध्यान मौजूदा सीजन को खत्म करने का है। इस पर फैसला लेने से पहले वे नई टीमों के लिए टेंडर नहीं निकालेंगे।

इससे पहले BCCI के एक अधिकारी ने मार्च में कहा था कि मई में 14वें सीजन के बीच में नई टीमों पर फैसला लिया जाएगा। बोर्ड ने कहा था कि नीलामी से लेकर टीम फाइनल करने तक की पूरी प्रक्रिया मई में हो जाएगी। एक बार टीम फाइनल होने के बाद वे टीम बनाने को लेकर काम शुरू कर सकते हैं। अब ये सारी प्रक्रिया आगे बढ़ सकती है।

ये पहली बार नहीं होगा कि एक सीजन में 10 टीमें खेलेंगी। इससे पहले IPL 2011 में भी 10 टीमें खेल चुकी हैं। पुणे वॉरियर्स और कोच्चि टस्कर्स हिस्सा लेने वाली 2 नई टीमें थीं। हालांकि, इसके बाद कोच्चि को बैन कर दिया गया। IPL के 2012 और 2013 सीजन में 9 टीमों ने हिस्सा लिया था। 2013 में लीग एक बार फिर से 8 टीमों के टूर्नामेंट पर लौट आई थी। हम आपको 4 शहरों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनकी नीलामी पर सबसे ज्यादा बोली लग सकती है…

1. पुणे

पुणे नई फ्रेंचाइजी का सबसे बड़ा दावेदार है। इससे पहले भी IPL में पुणे फ्रेंचाइजी रह चुकी है। पुणे वॉरियर्स इंडिया और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स ने पुणे शहर का प्रतिनिधित्व किया था। पुणे वॉरियर्स 2011 से लेकर 2013 तक और राइजिंग पुणे 2016 और 2017 सीजन में IPL का हिस्सा रही थी।

अगर इसे नई फ्रेंचाइजी के रूप में चुना जाता है, तो पुणे में मौजूद महाराष्ट्र क्रिकेट स्टेडियम होम ग्राउंड हो सकता है। पुणे में इंटरनेशनल मैच भी हो चुके हैं। यहां अब तक कुल 2 टेस्ट, 4 वनडे 3 टी-20 इंटरनेशनल मैच हुए हैं। भारत और इंग्लैंड के खिलाफ 3 वनडे मैच की सीरीज भी इसी ग्राउंड पर खेली गई थी।

2. अहमदाबाद

अहमदाबाद के भी IPL फ्रेंचाइजी बनने के ज्यादा चांसेज हैं। इस शहर में बने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 1 लाख 32 हजार दर्शकों के बैठने की क्षमता है। हाल ही में यहां इंटरनेशनल मैच और IPL के कुछ मैच भी खेले गए थे।

अगर IPL 2021 पोस्टपोन नहीं होता, तो फाइनल समेत सभी नॉकआउट मैच यहीं खेले जाने थे। इसलिए यह शहर 2 में से कोई एक टीम हो सकता है। इससे पहले IPL 2016 और 2017 में गुजरात लायंस भी लीग का हिस्सा रहा चुका है।

3. लखनऊ

लखनऊ भी दावेदारी की लिस्ट में बहुत आगे है। लखनऊ में मौजूद इकाना स्टेडियम में पिछले कुछ समय में काफी मैच हुए हैं। इस स्टेडियम को भारत रत्न श्री अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है। इसमें करीब 50 हजार दर्शकों के बैठने की क्षमता है। BCCI ने जुलाई 2019 में इसे अफगानिस्तान क्रिकेट टीम का भारत में तीसरा होम ग्राउंड घोषित किया था।

इस स्टेडियम ने 2019 में अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच हुए सभी मैचों की मेजबानी भी की थी। मार्च में भारतीय महिला टीम और साउथ अफ्रीकी महिला टीम के बीच हुए 5 वनडे और 3 टी-20 मैच भी इकाना स्टेडियम में ही कराए गए थे। लखनऊ की नवाबी भाषा और मेट्रो की सुविधा की वजह से इसकी दावेदारी भी मजबूत है।

4. इंदौर

BCCI इंदौर को भी IPL फ्रेंचाइजी के तौर पर अगले सीजन के लिए बढ़ावा दे सकता है। इंदौर में मौजूद होल्कर स्टेडियम को इस फ्रेंचाइजी का होम ग्राउंड भी बनाया जा सकता है। पिछले कुछ समय में इस स्टेडियम में कई मैच भी हुए हैं। होल्कर स्टेडियम में अब तक 4 वनडे और 1 टेस्ट मैच खेला गया है। इन सभी मैचो में भारतीय टीम ने जीत हासिल की है। इंदौर भारत के सबसे साफ शहरों में नंबर-1 है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *