पूर्व CM अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला हमला

UP

(www.arya-tv.com)उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने यूपी के हाथरस में हुई घटना को लेकर योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि यूपी में हाथरस जैसी वारदातें हो रही हैं। रामराज्य लाने वालों के राज में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं और सीएम बंगाल घूम रहे हैं। पूर्व सीएम ने कहा कि हाथरस की पीड़ित बेटी से मिलने सपा का एक प्रतिनिधिमंडल भेजा जाएगा। मैं खुद उस बेटी से मिलने जाऊंगा।

सपा सुप्रीमो अखिलेश ने कहा कि, प्रदेश की जनता सपा की तरफ देख रही’है। हमारा नारा काम बोलता है, हमने पहले ही बताया था सब व्यवस्था खराब कर दी बीजेपी सरकार ने, मंडी व्यवस्था खत्म हो रही। कहा कि, बीजेपी सरकार ने सब व्यवस्था खराब की मंडियों को हमने बनाया था। आज सरकार मंडियों को समाप्त कर रही है। किसान को सिर्फ बाजार के भरोसे नहीं छोड़ सकते हैं। मंडी खत्म कर किसानों को बर्बाद सरकार कर देगी।

भाजपा को बहुमत का घमंड हो गया है
हाथरस की घटना पर बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि हाथरस जैसी घटनाएं हो रही सरकार को किसी की परवाह नहीं हैं। मुख्यमंत्री खुद ही कहते हैं ठोंक दो। ऐसे में यह सब तो होना ही है। पुलिस पूरी तरह से निरंकुश हो गई है। भाजपा को बहुमत का घमंड है। ‘हाथरस में एक और लड़की से अत्याचार हुआ है। रामराज्य लाने वालों के राज्य में ऐसा हो रहा है।

CBI, ED से लोगों को डरा रही सरकार
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कस्टोडियल एनकाउंटर हो रहे हैं। सरकार लोगों को डरा रही है। सरकार ‘ED, CBI और इनकम टैक्स से डरा रही है। हाथरस के मामले पर शर्म से सिर झुक गया है। किसान आंदोलन के समय मुकदमे दर्ज हुए हैं। 10 हजार सपा कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज हुए हैं।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पूर्व विधायक राम कृपाल कोल, कामता सिंह बघेल, देवेंद्र प्रताप सिंह, भाजपा के संतोष कुमार, भाजपा के संजीव वर्मा, बसपा के परवेज उमर अहमद को सपा की सदस्यता दिलाई।

क्या है मामला
उत्तर प्रदेश में हाथरस के नौजरपुर गांव में बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत करने वाले पिता की सोमवार शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि आरोपी छेड़छाड़ का केस वापस लेने के लिए पीड़ित परिवार पर दबाव बना रहा था। मृतक की बेटी ने 6लोगों पर केस दर्ज कराया है। इनमें से एक को गिरफ्तार कर लिया गया है।