हत्यारी मां के शिकार हुए पति और बेटे, कहानी जानकर हो जाएंगे दंग

Gorakhpur Zone UP

गोरखपुर(www.arya-tv.com) उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में कई रोंगटे खड़े कर देने वाली वारदात हुई है। उसमें से हम आपको एक ऐसी घटना बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आप दंग हो जाएंगे।

यहां एक महिला अंधे प्यार के चक्कर में अपने प्रेमी के साथ मिलकर पहले अपने पति की तड़पा-तड़पा कर मारा फिर अपने एकलौते बेटे को भी मौत की नींद सुला दी। यह घटना चार साल पहले की है। 17 अक्तूबर 2020 को दोनों आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी।

जनवरी 2016 को शाहपुर के बशारतपुर निवासी अर्चना के पति डॉक्टर ओमप्रकाश व उनके बेटे की घर में ही हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने ओमप्रकाश की मां बागेश्वरी देवी की तहरीर पर हत्या का केस दर्ज कर अर्चना व उसके प्रेमी फिरोजाबाद निवासी अजय यादव को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। पुलिस ने बताया था कि अर्चना की दोस्ती फेसबुक के जरिए अजय से हुई थी। जब अर्चना अपने लखनऊ स्थित मायके जाती थी तो दोनों वहां छिप छिपकर मिलते थे।

पति को शक होने के बाद घटना की रात अजय वहां पहुंचा। अर्चना ने दरवाजा खोला फिर अजय घर के अंदर दाखिल हुआ। दोनों ने मिलकर घर में सो रहे ओमप्रकाश की हथौड़े से मारकर बेरहमी से हत्या कर दी। इस दौरान बेटा नितिन जग गया। वह पिता को खून से लथपथ देख मां की गोद में छिप गया।

लेकिन अर्चना ने उसका भी गला घोंटकर मार डाला। तभी से अर्चना और उसका प्रेमी अजय जेल में थे। इनकी जमानत भी नहीं हुई। साक्ष्य के आधार पर आरोप सिद्ध होने पर अपर सत्र न्यायाधीश ज्ञानप्रकाश शुक्ला ने दोनों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी और आर्थिक जुर्माना भी लगाया था। जुर्माना नहीं भरने पर छह माह की अतिरिक्त सजा भी दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *