डॉक्टरों ने बनाया ग्रुप, हर भाषा के होम आइसोलेट कोविड मरीज का वीडियो कॉलिंग से कर रहे मुफ्त इलाज

Environment Health /Sanitation National

(www.arya-tv.com)जब आज महामारी से निपटने के लिए चिकित्सा सुविधा के लिए जूझना पड़ रहा है, ऐसे में देशभर के 60 युवा एमबीबीएस डॉक्टरों की टीम होम आईसोलेट कोविड मरीजों के निशुल्क ऑनलाइन इलाज में जुटी हुई है। ये डॉक्टर हर भाषा के मरीज काे दवाओं के संबंध में परामर्श दे रहे है। ऐसे मरीजों को मोटिवेट भी किया जा रहा है ताकि वे नेगेटिविटी के शिकार न हो। भोपाल के चिरायु अस्पताल में सेवा देने वाले उज्जैन के भैरवगढ़ क्षेत्र निवासी एमबीबीएस डॉक्टर राहत पटेल की यह पहल है।

मरीजों का इलाज करते हुए उन्हें खुद में भी कोविड के लक्षण दिखे तो वे होम आइसोलेट हो गए। इसी के बाद उन्हें यह ख्याल आया कि होम आइसोलेट रहते भी कोविड मरीजों की सेवा की जा सकती है। इसके लिए कुछ अन्य संक्रमित हुए डॉक्टरों से सोशल मीडिया पर संपर्क किया। फिर देशभर की हर भाषा को समझने वाले 60 युवा डॉक्टरों की सोशल मीडिया चिकित्सा सेवा टीम तैयार हो गई। इसे स्टूडेंट फॉर सेवा मध्यभारत फ्री काउंसलेशन बॉय डॉक्टर्स फॉर होम आइसोलेटेड कोविड पेशेंट नाम दिया गया है। सोशल मीडिया पर डॉक्टर्स की इस टीम ने अपने नाम, नंबर का पोस्टर शेयर किया हुआ है। ख्यात कवि डॉक्टर कुमार विश्वास ने भी इस टीम को टि्वटर पर टैग किया है।

ये डॉक्टर दे रहे सुबह छह बजे से निशुल्क सेवा

  • डॉक्टर राहत पटेल उज्जैन, समय : सुबह 6 से 8 बजे। भाषा : हिंदी व अंग्रेजी। मोबाइल- 9425916599
  • डॉक्टर चित्रा गुरुग्राम हरियाणा, समय : शाम 5 से 8 बजे । भाषा : हिंदी, इंग्लिश और पंजाबी। संपर्क- 8816055114
  • डॉक्टर सिद्धार्थ मिश्रा मुंबई, समय : सुबह 8 से 10। भाषा : हिंदी, इंग्लिश। संपर्क- 7976019014
  • डॉक्टर नुपूर दिल्ली, समय : दोपहर 2 से 3। भाषा : हिंदी, इग्लिश,मराठी व कन्नड़। संपर्क- 8657422089
  • डॉक्टर प्रियंका पाटिल जलोन महाराष्ट्र, समय : 2 से 4। भाषा: मराठी।
  • डॉक्टर मीनल हाड़ा तमिलनाडु, समय : दोपहर 3 से 4। भाषा : तमिल।

दो हजार मरीजों को परामर्श दे चुकी टीम

  • स्टेरॉयड लेने से खून में ग्लूकोज का लेवल बढ़ सकता है, इसलिए बिना डॉक्टर की सलाह से स्टेरॉयड बिल्कुल मत लें। खासकर मधुमेह के मरीज। यह हड्डियां को कमजोर कर देता है। शुगर लेवल बढ़ा तो जान भी जा सकती है।
  • मधुमेह के मरीज अगर कोविड ग्रसित हैं तो विशेष ध्यान रखे कि चाय व काफी बिल्कुल न लें, इसकी जगह सेब खाएं। सेब में फाइबर अधिक होने से पेट संबंधी तकलीफ नहीं होगी।
  • ऐसे कोविड मरीज जो अन्य बीमारी से ग्रसित नहीं है वे इस समय दलिया, सेब, अनार, संतरा लें। हल्का खाना खाए। नींद प्रॉपर लें, सकारात्मक सोचें, ध्यान लगाएं, आगे क्या करना है सोचें। डायरी में अपने संस्मरण लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *