मछली पालन के पीछे चल रही थी कालाबाजारी, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने छापेमारी में तीन को किया गिरफ्तार

UP Varanasi Zone

वाराणसी।(www.arya-tv.com) जिले में प्रमुख मछली व्यवसायी के छावनी स्थित ठिकाने पर सोमवार को छापेमारी की गई। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की ओर से गठित टीम ने यह कार्रवाई की। छापेमारी के दौरान मुख्तार गैंग के तीन शातिर सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार आरोपित मछली पालन को लेकर बड़े पैमानों पर कालाबाजारी किया करते थे। वहीं वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने तीनों आरोपितों से पूछताछ भी की। पत्रकारों से बातचीत के दौरान एसएसपी ने बताया कि पूरी तरह जांच होने की बाद ही मामला उजागर होगा।

एसएसपी ने बताया कि पूछताछ और पड़ताल की प्रक्रिया पूरी कर स्थिति जल्द ही स्पष्ट की जाएगी। वहीं, मछली कारोबारी को हिरासत में लिए जाने की सूचना से मुख्तार अंसारी गिरोह से जुड़े जिले के अन्य लोगों में हड़कंप मचा हुआ है। गुप्‍ता सूचना के आधार पर प्रमुख मछली व्यवसायी के छावनी स्थित ठिकाने पर जिलाधिकारी की ओर से गठित टीम ने छापेमारी की। मछली व्यवसाई मोहम्मद सलीम के छावनी के बंगला नंबर 51 स्थित ठिकाने से प्रतिबंधित मछलियों के कई प्रजातियों के व्यवसाय की सूचना मिली थी।

टीम ने रणनीति के तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया और मुख्‍तार अंसारी गैंग के तीन शातिर सदस्‍य हत्‍थे चढ़ गए जो मछली के कालाबजारी में लिप्‍त थे। गिरफ्तार आरोपितों को थाने लाया गया जहां उनके पूछताछ जारी है। इस कार्रवाई में एएसपी प्रभाकर चौधरी, सीओ कैंट मोहम्मद मुश्ताक, सीओ चेतगंज अनिल कुमार सहित अन्य कई थाने के प्रभारियों समेत मत्स्य विभाग व राजस्व विभाग की टीम के मौजूद रहे। एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने बताया कि सलीम पिछले 20 सालों से वाराणसी में रह रहा है और अपना अवैध कारोबार को अंजाम दे रहा था। उन्होंने कहा कि यह काम वह दबंगई का सहारा लेकर करता है। इसके साथ ही सलीम प्रतिबंधित मछलियों का भी व्यापार करता है। सिर्फ इतना ही नहीं, सलीम मछली मार्केट से वसूली भी करता है। इसके अलावा एक अंडे का अभी स्टोर बरामद हुआ है, जहां बिना लाइसेंस के कारोबार किया जा रहा था। यह पूरा काम संगठित रूप से किया जा रहा था। सभी बरामद मछलियों और अंडों को सीज किया गया है, उसके साथ ही पूरी जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *