नानाजी देशमुख संस्थान के रूप में सेवा भारती के इतने प्रकल्प का हुआ उद्घाटन

Gorakhpur Zone

गोरखपुर (www.arya-tv.com) नानाजी देशमुख संस्थान के रूप में रविवार को सेवा भारती महानगर की ओर से 53वें प्रकल्प का समारोहपूर्वक उद्घाटन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र प्रचारक अनिल द्वारा किया गया। इस अवसर पर क्षेत्र प्रचारक ने कहा कि पूरे देश में सेवा भारती की ओर से गरीब बस्तियों में विभिन्न कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। रोजगार के लिए बाल संस्कार केंद्र, सिलाई-कढ़ाई केंद्र जैसे केंद्रों का संचालन भी स्वयंसेवकों द्वारा किया जा रहा है। यहां तक कि कश्मीर में भी सेवा भारती के केंद्र संचालित किए जा रहे हैं।

नानाजी ने राजनीति छोड समाज सेवा का क्षेत्र चुना

नानाजी के व्यक्तित्व व कृतित्व की चर्चा करते हुए अनिल ने कहा कि उन्होंने राजनीति छोड़कर समाज सेवा का क्षेत्र चुना। उन्होंने 90 के दशक में ही महानगर में 100 प्रकल्प खड़ा करने के लिए प्रेरित किया। आयोजन के विशिष्ट अतिथि अरविंद विक्रम चौधरी ने संस्था को हर संभव मदद करने को लेकर प्रतिबद्धता जाहिर की।

प्रांतीय अध्‍यक्ष ने लोगों से समाज सेवा में आने का किया आह्वान

सेवा भारती के प्रांत अध्यक्ष अतुल सर्राफ ने मौजूद लोगों को समाज सेवा के लिए आगे आने के लिए प्रेरित किया। इस दौरान उन्होंने एश्प्रा द्वारा महानगर में चल रहे चार बाल संस्कार केंद्रों को गोद लेने की घोषणा की।

सेवा प्रकल्‍प के चारों आयामों की हुई घोषणा

चारो आयामों के प्रमुखों की भी घोषणा की गई। नवीन अग्रवाल को स्वावलंबन प्रमुख, मंकेश्वर पांडेय को शिक्षा प्रमुख, डा. निखिल चौधरी को स्वास्थ्य प्रमुख और जितेंद्र गौड़ को सामाजिक प्रमुख का दायित्व दिया गया। प्रकल्पों की जानकारी आशीष लाट ने दी। संचालन प्रांत सचिव डा. आलोक श्रीवास्तव और आभार ज्ञापन महानगर अध्यक्ष आनंद जालान ने किया।

इस अवसर प्रांत संघचालक डा. पृथ्वीराज की मौजूदगी महत्वपूर्ण रही। क्षेत्र सेवा प्रमुख नवल, सह प्रांत प्रचारक अजय, सह संघचालक डा. महेंद्र अग्रवाल, डा. राकेश, नरेंद्र, अभिजीत, सत्येंद्र राम त्रिपाठी, दीपेंद्र शुक्ला, पीयूष तुलस्यान, शिव कुमार शर्मा, भरत जालान, विष्णु गोयल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *