डॉ. राजेश्वर सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष के माध्यम से सदन में उठाई सरोजनीनगर की समस्याएं

Lucknow

पंडित बृजेश कुमार मिश्रा

  • डॉ. राजेश्वर सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष के माध्यम से की कन्या महाविद्यालय तथा अंडरग्राउंड सीवेज व ड्रेनेज सिस्टम बनाए जाने की मांग
  • स्मार्ट सरोजनीनगर और बेटियों की उच्च शिक्षा को संकल्पित डॉ. राजेश्वर ने विधानसभा में रखी क्षेत्र की समस्याएं
  • सरोजनीनगर को आदर्श विधानसभा बनाने को संकल्पित डॉ. राजेश्वर सिंह, विधानसभा के माध्यम से उठाई जनसमस्याएं

(www.arya-tv.com)लखनऊ। सकारात्मक सोच एवं जनसेवा की भावना के साथ सरोजनीनगर विधायक डॉ. राजेश्वर सिंह अपने दायित्वों का सतत निर्वहन कर रहे हैं। उनकी विधानसभा सरोजनीनगर प्रगति के नित नए मुकाम ​हासिल कर रही है। विधायक के प्रयासों से जनता की मूलभूत सुविधाओं से लेकर विकास से जुड़े कार्य भी क्षेत्र में निरंतर करवाए जा रहे है। डॉ. राजेश्वर सिंह सरोजनीनगर की जनता की बातों को विधानसभा में भी प्रमुखता एवं सजगता से रखते हैं।

सोमवार से शुरू हुए विधानमंडल के शीतकालीन सत्र के प्रथम दिन उन्होंने क्षेत्र के विकास से जुड़ी मांगों को उठाया। ​डॉ. राजेश्वर सिंह ने नियम 301 और 51 के अतंर्गत क्रमश: हरौनी में कन्या महाविद्यालय खोले जाने के संबंध में तथा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत क्षेत्र में अंडरग्राउंड सीवेज व ड्रेनेज सिस्टम बनाए जाने की मांग की। विधायक ने पत्र लिखकर विधानसभा अध्यक्ष के माध्यम से इन प्रश्नों को सदन के पटल पर रखा।

दरअसल सरोजनीनगर के हरौनी क्षेत्र में कन्या महाविद्यालय न होने से छात्राओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने में असुविधा होती है। कई बार तो ग्रामीण क्षेत्रों की छात्राओं को उच्च शिक्षा से वंचित होना पड़ जाता है। इसके अलावा नगरीय क्षेत्र में सीवेज एवं ड्रेनेज सिस्टम की समुचित व्यवस्था न होने के कारण स्थानीय लोगों को जलभराव तथा दुघर्टना-जाम जैसी समस्याओं से दो चार होना पड़ता हैं। क्षेत्रवासियों द्वारा क्षेत्र में कन्या महाविद्यालय बनवाने तथा अंडरग्राउंड सीवेज व ड्रेनेज सिस्टम बनाए जाने की मांग लगातार उठ रही थी जिस पर डॉ. राजेश्वर सिंह ने पत्राचार किया।

डॉ. राजेश्वर सिंह को जब से सरोजनीनगर की जिम्मेदारी मिली है वे क्षेत्रवासियों की समस्याओं को तत्काल दूर करने के लिए प्रयासरत रहते हैं। इससे पहले मानसून सत्र 2022 में भी उन्होंने क्षेत्र की समस्याओं की ओर विधानसभा का ध्यान आ​कर्षित करवाया था। इस सत्र में नियम 301 के अंतर्गत अंडरग्राउंड सीवेज एवं ड्रेनेज सिस्टम बनाए जाने तथा सरोजनीनगर के शहरी क्षेत्रों में अंडरग्राउंड विद्युत केबलिंग कराने के संबंध में उन्होंने अनुरोध किया था। ​इसके अलावा नियम 51 के अंतर्गत शहरी क्षेत्रों में नालों की समुचित निकासी, सफाई व सीवेज पंपों का संचालन करने तथा बांस बल्ली पर दिए गए विद्युत कनेक्शनों को विद्युत पोल पर दिए जाने की मांग की थी। पूर्व में उठाई गयी मांगों के आधार पर सरोजनी नगर में मुख्यमंत्री नगर सृजन योजना के अंतर्गत नगरीय क्षेत्र में शामिल 27 गावों में 23 कायों को प्रक्रियाधीन किया गया था।

इस​के अलावा भी डॉ. राजेश्वर सिंह निरंतर क्षेत्र के मांगों को पूरा करने के लिए प्रयत्नशील रहते हैं। इतना ही नहीं उन्होंने सरोजनीनगर से जुड़ी मांगों व आवश्यकताओं को लेकर विभिन्न विभागों से पत्राचार किया और कई बार सीएम योगी को भी अवगत कराया हैं। डॉ. राजेश्वर सिंह का उद्देश्य है सरोजनीनगर को एक आदर्श व सर्वोत्तम विधानसभा बनाना जिसके लिए उनका प्रयास लगातार जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *