लखनऊ जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग मिलकर चलाएगा कैरियर डेंटल कॉलेज

Lucknow

(www.arya-tv.com)कैरियर डेंटल कॉलेज के अवैध निर्माण की कुर्की और ध्वस्तीकरण पर कार्रवाई होने के बाद कॉलेज के स्टूडेंट्स व स्टाफ का भविष्य खतरे में आ गया। ऐसे में डूबती नैय्या पार लगाने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग उम्मीद की किरण बनकर सामने आए हैं। जानकारों का कहना है कि यह यूपी में अभी तक का अनोखा फैसला है।

दो भागों में बांटी गई व्यवस्था
दरअसल, 24 जुलाई को मड़ियांव में IIM रोड पर स्थित कैरियर डेंटल कॉलेज के अवैध निर्माण ढहाने की कार्रवाई की गई थी। ऐसे में वहां पढ़ रहे
स्टूडेंट्स के भविष्य को देखते हुए शासन और जिला प्रशासन ने मिलकर यह रास्ता निकाला है। इसमें व्यवस्था दो भागों में बांटी गई है। जिसमें स्टूडेंट्स के पढ़ाई से संबंधित काम स्वास्थ्य विभाग देखेगा। वहीं, स्टाफ व कॉलेज से संबंधित वित्त से जुड़े मामले जिला प्रशासन की तरफ से मॉनिटरिंग होंगे। ऐसे करीब 800 स्टूडेंट्स और स्टाफ के भविष्य का बेड़ा पार होगा। प्राप्त जानकारी के अनुसार, 2 डिप्टी CMO मिलकर डेंटल कॉलेज के साथ नर्सिंग कॉलेज और होस्टल का संचालन करेंगे। इसमें उनकी क्लास से लेकर परीक्षा शामिल है।

1995 में बना था चैरिटेबल ट्रस्ट
कैरियर कॉलेज के मालिक अजमत अली ने 1995 में कैरियर कॉन्वेंट एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट बनाया। हालांकि, इसके बाद उनके ऊपर सरकारी रास्तों, चकरोड व सरकारी जमीनों पर कब्जा करने का आरोप लगने लगा। इसी अवैध कमाई से साल 1998 से 2000 के बीच कैरियर कॉन्वेंट कॉलेज बनाया। काम आगे बढ़ा तो 2007 में कैरियर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड हॉस्पिटल की बिल्डिंग नेशनल हाईवे से मिलाकर बनानी शुरू की।

बैंक में जमा 77 लाख भी जब्त
अजमत अली के कई खातों के मिलाकर रखे 77 लाख रुपए भी जब्त कर लिए गए हैं। लखनऊ में पीएनबी घैला, एक्सिस बैंक शाखा आईआईएम रोड, एसबीआई पांडेयगंज, आईसीआईसीआई नादान महल रोड में 77,35,530 रुपए जमा किए गए थें। उसको भी जब्त कर लिया गया है। अजमत के पास खुद और ट्रस्ट के नाम से खरीदीं लग्जरी गाड़ियां (फॉर्च्यूनर, ऑडी, क्वालिस, इनोवा) बस व अन्य 10,91,15,000 रुपए के वाहन हैं। पुलिस ने सारी संपत्तियों को जब्त कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *