हजारों मरीजों के इलाज पर संकट, कर्मचारियों और शिक्षकों का शुरू हुआ आंदोलन

# ## Health /Sanitation Lucknow

(www.arya-tv.com) उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े चिकित्सा संस्थान KGMU यानी किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में मंगलवार को मरीजों को उपचार मिलना बंद हो गया। पे-मैट्रिक्स में बदलाव औरकैडर रिस्ट्रक्चरिंग को लेकर चिकित्सा विश्वविद्यालय के कर्मचारी संघ मंगलवार से प्रदर्शन कर रहा हैं।

इस बीच आंदोलन में फैकल्टी यानी शिक्षकों के शामिल होने की भी खबरें हैं। बहरहाल OPD ठप होने से मंगलवार सुबह से ही मरीजो का हाल बेहाल हो गया।हजारों मरीज को उपचार मिलना बंद हैं। रजिस्ट्रेशन हॉल में कर्मचारी संघ नारेबाजी कर रहा हैं।

इमरजेंसी सेवाएं छोड़ बाकी सब बंद होने का दावा
केजीएमयू कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष विकास सिंह के बताया कि आज यानी छह सितंबर को आकस्मिक सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी सेवाएं ठप करने की चेतावनी दी है। इसको लेकर कुलपति, कुलसचिव और शासन को भी पत्र भेज दिया गया है।

KGMU कुलपति ने चार अगस्त को हुई वार्ता में उनकी मांग पूरी करने का आश्वासन दिया था। मांग पूरी न होने पर कर्मचारियों ने धरना-प्रदर्शन और घेराव की घोषणा की है। इस बीच आजादी का अमृत महोत्सव के तहत विभिन्न कार्यक्रम होने थे। इसे देखते हुए कर्मचारियों ने अपना विरोध प्रदर्शन कुछ दिन के लिए टाल दिया। उन्होंने कहा है कि “हमारी मांगे पूरी नही हुई तो आंदोलन जारी रहेगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *