XE Variant Symptoms: क्या है कोविड का XE वेरिएंट: जानें इसके लक्षण

# ## National

(www.arya-tv.com) कोरोना वायरस के XE वेरिएंट का मामला महाराष्ट्र के बाद गुजरात में भी पाया गया। नए वेरिएंट के आने से लोगों में फिर चिंता बढ़ी है। XE ओमिक्रॉन के दो सब-वेरिएंट BA.1 और BA.2 से मिलकर बना है, जो इसे ओमिक्रॉन से भी ज़्यादा संक्रामक बनाता है। इसका मतलब यही हुआ कि यह मूल वेरिएंट ओमिक्रॉन की तुलना और भी तेज़ी से फैलेगा और पहले से ज़्यादा लोगों को संक्रमित करेगा।

हालांकि, एक्सपर्ट्स का कहना है कि जब यह नया वेरिएंट यूके में पाया गया है तब से इसके लक्षण हल्के ही देखे गए हैं। इसके बावजूद एक्सपर्ट्स लोगों को चेता रहे हैं कि कोविड को लेकर कोताही न बरतें और इससे जुड़ी सभी सावधानियों पर ध्यान दें।

क्या है XE वेरिएंट?

कोविड का XE वेरिएंट सबसे पहले जनवरी में इंग्लैंड में पाया गया था और तब से 600 से ज़्यादा लोगों को संक्रमित कर चुका है। ऐसा माना जा रहा है कि XE वेरिएंट मूल वायरस से 10% अधिक ट्रांसमिसिबल यानी संक्रामक है। यह SARS-COV-2 के वेरिएंट ओमिक्रॉन के दो सब-वेरिएंट BA.1 और BA.2 से मिलकर बना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *