कल्याण सिंह की हालत बेहद नाजुक:PGI लखनऊ में लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर

Health /Sanitation

(www.arya-tv.com)पूर्व राज्यपाल और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे कल्याण सिंह की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम में रखा गया है। बताया जा रहा है कि मंगलवार शाम से इंटुबैट यानी ट्रेकिया मे ट्यूब डालकर सीधे फेफड़ों को ऑक्सीजन दी जा रही है। जबकि अभी तक वह हाई फ्लो ऑक्सीजन पर ही उनका ऑक्सीजन लेवल मेंटेन था। विशेषज्ञ डॉक्टर ​​​लगातार उनकी निगरानी कर रहे हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी कल्याण सिंह से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना। उन्होंने डॉक्टर्स से भी बात की।

हालांकि इससे पहले 4 जुलाई को जब लोहिया में राजनाथ सिंह कल्याण सिंह को देखने पहुंचे थे उस दिन भी कल्याण सिंह होश में नहीं थे और किसी को भी पहचान नहीं पा रहे थे। यही हाल बुधवार को भी रहा। राजनाथ से उन्होंने इशारे में ही बातचीत की। करीब 15 मिनट तक रक्षामंत्री पीजीआई में रुके और फिर यही से एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए। उनके साथ प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह,डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा व कानून मंत्री बृजेश पाठक भी उनके साथ PGI पहुंचे थे।

एक दिन पहले ही आनंदी बेन पटेल ने की थी कल्याण से मुलाकात

एक दिन पहले राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के आने पर कल्याण सिंह बातचीत कर पा रहे थे और बातचीत के दौरान उन्होंने दोनों हाथ उठाकर अपनी कुशलता को दर्शाने का प्रयास किया था। इससे पहले रविवार को भी सीएम योगी के आने पर उन्होंने कहा कि आप उनकी बहुत सेवा कर रहे हैं।

36 घंटे बाद दिया था रिस्पांस, फिर से हालत नाजुक
कल यानी मंगलवार दोपहर यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल कल्याण सिंह का हाल जानने के लिए PGI पहुंचीं थीं। इस दौरान कल्याण सिंह ने हाथ उठाकर जवाब दिया था। करीब 36 घंटे के बाद वो वापस से बोल पा रहे थे। मौके पर मौजूद कल्याण सिंह के बेटे सांसद राजवीर सिंह ने गवर्नर से डॉक्टरों की तारीफ की थी। वहीं, राज्यपाल ने पीजीआई डायरेक्टर समेत पूरी टीम को जल्द ही कल्याण सिंह को पूरी तरह स्वस्थ्य करके डिस्चार्ज करने की बात कही थी।

21 जून से चल रहा इलाज
कल्याण सिंह बीते 21 जून को लखनऊ के लोहिया संस्थान में भर्ती किए गए थे। 4 जुलाई को उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ते ही सबसे पहले यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ उनसे मिलने पहुंचे थे। थोड़ी देर बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या सहित प्रदेश सरकार के कई मंत्री भी लोहिया संस्थान कल्याण सिंह का हालचाल लेने गए। इस बीच उसी दिन उन्हें PGI शिफ्ट किया गया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, बीएल संतोष समेत भाजपा संगठन के तमाम बड़े नेता कल्याण सिंह का हालचाल जानने PGI पहुंचे थे।

पीएम भी ले चुके हैं हेल्थ अपडेट
खुद प्रधानमंत्री मोदी कल्याण सिंह के पारिवारिक सदस्यों को फ़ोन कर उनके स्वास्थ्य के विषय में जानकारी ले चुके हैं। इसके अलावा सोशल मीडिया के माध्यम से भी उन्होंने अस्पताल में भर्ती कल्याण सिंह के जल्द स्वास्थ्य होने की कामना की है। यहां तक कि उन्होंने यूपी सीएम को कल्याण सिंह के बेहतर इलाज व्यवस्था कराने के भी निर्देश दिए थे।

क्या होता है इंटुबैट ?
यांत्रिक वेंटिलेशन के लिए श्वासनली में एक ट्यूब डाला जाता है। इसे डॉक्टरी भाषा में इंटुबैट (Intuebate) कहते हैं। यह एक तरह का लाइफ सपोर्ट सिस्टम है। जब मरीज के फेफड़े पर्याप्त रूप से सांस नहीं ले पाते हैं तो फिर इंटुबैट का इस्तेमाल होता है, ताकि फेफड़ों को पूरी ऑक्सीजन मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *