2.44 करोड़ की कार, लाइसेंस न रजिस्ट्रेशन; पुणे हादसे में नाबालिग का पिता गिरफ्तार

# ## National

(www.arya-tv.com) महाराष्ट्र के पुणे में तेज रफ्तार लग्जरी कार द्वारा बाइक को टक्कर मारने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। नाबालिग किशोर जिस पोर्श कार को चला रहा था, उसकी कीमत 1.61 करोड़ रुपये से 2.44 करोड़ रुपये है। उस गाड़ी का न तो रजिस्ट्रेशन है और न ही कोई नंबर प्लेट। नशे में गाड़ी चला रहे नाबालिग के पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था, लेकिन उसने दो दोस्तों की बेरहमी से जान ले ली। वहीं, हिट एंड रन केस में पुलिस ने पोर्श कार चला रहे नाबालिग के पिता को गिरफ्तार कर लिया।

पुणे में रविवार रात करीब 2.30 बजे के आसपास एक लग्जरी कार ने एक बाइक को जोरदार टक्कर मार दी थी, जिसमें दो सॉफ्टवेयर इंजीनियर की मौत हो गई। सूत्रों का कहना है कि हादसे की रात को नाबालिग ने अपने दोस्तों के साथ दो जगह पर शराब पी थी। उसके साथ ड्राइवर भी था, लेकिन उसने नशे में कहा था कि वह पोर्श कार चलाएगा और अपने दोस्तों को दिखाएगा कि यह गाड़ी कितनी स्पीड चलती है।

पुलिस का एक्शन

पुणे सड़क हादसे में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की। हिट एंड रन मामले में पुणे पुलिस ने नाबालिग किशोर के पिता विशाल अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया। वे पुणे के बड़े बिजनेसमैन हैं।

बिना रजिस्ट्रेशन दौड़ रही पोर्श कार

बिल्डर का 17 वर्षीय बेटा जिस पोर्श कार को चला था, उसका मार्च से रजिस्ट्रेशन नहीं था। बेंगलुरु में एक डीलर के माध्यम से इस कार को बुक किया गया था। गाड़ी का रजिस्ट्रेशन करना मालिक की जिम्मेदारी है, लेकिन बिल्डर ने ऐसा नहीं किया। यह गाड़ी बिना नंबर प्लेट के ही सड़क पर दौड़ रही है। इसे लेकर पुणे आरटीओ का कहना है कि पोर्श कार के रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक शुल्क का भुगतान नहीं किया गया था।