पैसेंजर ट्रेंन को एक्सप्रेस बनाकर, बढ़ाया चार गुना किराया

Gorakhpur Zone

गोरखपुर (www.arya-tv.com) पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने सवारी गाडिय़ों (पैसेंजर ट्रेन) को एक्सप्रेस बनाकर चलाने की तैयारी पूरी कर ली है। ट्रेनों को तीन मार्च से मंडलवार चलाने का निर्णय लिया गया है। सोमवार को इज्जतनगर मंडल की ट्रेनों को चलाने की घोषणा हो गई। मंगलवार को गोरखपुर और वाराणसी मंडल की ट्रेनों को चलाने की भी घोषणा हो जाएगी। पांच और छह मार्च से गोरखपुर और वाराणसी रूट पर पैसेंजर ट्रेनों का भी संचालन शुरू हो जाएगा।

प्लेटफार्म टिकट का मूल्‍य भी बढ़ेगा

एक्सप्रेस ट्रेनों के चलने के साथ ही स्टेशनों के जनरल काउंटर खुल जाएंगे। काउंटरों से टिकटों की बुकिंग शुरू हो जाएगी। यात्री मोबाइल यूटीएस एप से भी टिकट बुक कर सकेंगे। हालांकि, काउंटरों से अभी जनरल टिकट ही बुक होंगे। प्लेटफार्म टिकटों की बुकिंग के लिए लोगों को इंतजार करना होगा। जानकारों के अनुसार प्लेटफार्म टिकट के लिए अभी कोई दिशा-निर्देश नहीं मिला है। भीड़ होने पर जरूरत पड़ी तो मंडल स्तर पर दाम बढ़ाकर प्लेटफार्म टिकट की बिक्री की जा सकती है।

दस की जगह देने होंगे तीस रुपये

फिलहाल, पैसेंजर ट्रेनों के चलने से स्थानीय लोगों को सहूलियत मिलेगी। लेकिन किराया एक्सप्रेस का देना पड़ेगा। गोरखपुर से नकहा जाने के लिए जहां 10 रुपये खर्च होते थे, अब 30 रुपये लगेंगे। गोरखपुर से गोंडा जाने के लिए पैसेंजर का किराया 45 रुपये निर्धारित है। अब अब 90 रुपये देने पड़ेंगे। दो से चार गुना किराया बढ़ जाएगा। जबकि, ट्रेनें पूर्व निर्धारित समय के आधार पर ही संचालित होगी। अलग से कोई अतिरिक्त सुविधाएं भी नहीं मिलेंगी। यहां जान लें कि रेलवे बोर्ड ने 11 माह बाद पूर्वोत्तर रेलवे की 32 सवारी गाडिय़ों को एक्सप्रेस बनाकर चलाने की अनुमति दी है।

किसान आंदोलन के चलते निरस्त रहेंगी दो ट्रेनें

पंजाब में चल रहे किसान आंदोलन के चलते ट्रेनों का निरस्तीकरण जारी है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार 02 मार्च को चलने वाली 05211 दरभंगा-अमृतसर तथा 04 मार्च को चलने वाली 05212 अमृतसर-दरभंगा स्पेशल निरस्त रहेगी। इसके अलावा शहीद स्पेशल सहित कुछ ट्रेनें विभिन्न तिथियों में मार्ग बदलकर चलाई जाएंगी।