होने वाले काम के भुगतान के लिए स्थानीय लोगों से एनओसी लेनी होगी

Lucknow

(www.arya-tv.com)एलडीए ने अपने आवंटियों को राहत दी है। एलडीए के अपार्टमैंट जहां आवंटी रहते है, वहां होने वाले काम के भुगतान के लिए स्थानीय लोगों की एनओसी लेनी होगी। उदाहरण के लिए अगर ठेकेदार या संबंधित फर्म कोई काम कराती है, और उस काम पर आवंटी को आपत्ति है तो उसका भुगतान नहीं होगा।

वीसी अभिषेक प्रकाश ने इस संबंध में देर रात आदेश जार कर दिया। इस आदेश के अनुसार काम का सत्यापन हुए बिना भुगतान नहीं होगा। इससे ठेकेदार और इंजीनियर की मिली भगत से होने वाली लूट को रोका जा सकता है। उन्होंने कहा इस संदर्भ में अगर कहीं भी लापरवाही की गई तो इसके लिए संबंधित व्यक्ति को जिम्मेदार ठहराया जाएगा। उसके बाद उसके खिलाफ विभागीय नियमावली से सख्त कार्रवाई होगी।

rwa की एनओसी आवश्यक

जहां पर रैजीडेंस वेलफेयर एसोसिएशन बन गई है, वहां एसोसिएशन की सहमति के बाद ठेकेदार को किसी तरह का भुगतान किया जा सकेगा। दरसल, एलडीए के कई अपार्टमैंट ऐसे हैं जहां आवंटियों को कब्जा तो दिया जा चुका है लेकिन वहां कोई रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन नहीं बन सकी है।

एक्सईएन की तय हुई जिम्मेदारी

जहां rwa नहीं बनी है , उन जगहों की जिम्मेदारी वहां का काम देख रहे एक्सईएन की होगी। वह निरीक्षण कर इस बात का शपथपत्र देंगे कि काम बेहतर हुआ है। उसके बाद उनकी जिम्मेदारी तय होगी। भुगतान भी उसके बाद ही होगा। वीसी की तरफ से इस संबंध में जारी आदेश के मुताबिक अगले दो दिनों में चीफ इंजीनियर इस संबंध में हर योजना के एक्सईएन को अलग से आदेश जारी करेंगे।