मुश्किल में मलिंगाः खेलमंत्री को ‘बंदर’ कहना पड़ा महंगा, मिली ये कड़ी सजा

Game

(www.arya-tv.com) श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा पर उनके कॉन्ट्रैक्ट का लगातार उल्लंघन करने और मीडिया में बिना अनुमति के लगातार बयान देने के आरोप में एक साल का सस्पेंशन बैन और मैच फीस का 50 फीसदी जुमार्ना लगाया गया है। श्रीलंकाई गेंदबाज ने खेल मंत्री दयासिरी जयासेकरा के खिलाफ भी मीडिया में कई आपत्तिजनक बयान दिए थे, जिसमें उन्होंने दयासिरी को ‘बंदर’ तक कह दिया था।

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (एसएलसी) ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि मलिंगा को उनके मीडिया में बिना अनुमति के दिए गए बयानों के लिए अनुशासनात्मक समिति ने दोषी पाया है और उन पर एक साल का सस्पेंशन बैन लगाया गया है। 33 वर्षीय गेंदबाज को अपनी अगली वनडे सीरीज में मैच फीस के 50 फीसदी का जुमार्ना भी देना होगा। हालांकि श्रीलंकाई क्रिकेटर पर लगे इस सस्पेंशन बैन के कारण उनके जिम्बाब्वे दौरे में उपलब्धता पर असर नहीं होगा जहां उन्हें पहले दो मैचों के लिए 13 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है।

मंगलवार को अनुशासनात्मक समिति के सामने पेश हुए मलिंगा

एसएलसी ने जारी बयान में बताया कि मलिंगा मामले की जांच के लिए अनुशासनात्मक समिति के सामने मंगलवार को पेश हुए थे, जहां उन्होंने खुद पर लगे आरोपों को स्वीकार करते हुए सजा को स्वीकार कर लिया और आधिकारिक रूप से माफी भी मांग ली।

खास बुलाई गई कार्यकारी समिति ने मलिंगा पर एक साल का सस्पेंशन बैन लगाया जो छह महीने में खत्म हो जाएगा। लेकिन यही गलती दोबारा होने पर बचे छह महीने की अवधि में फिर से उन्हें सस्पेंड कर दिया जाएगा। इसके अलावा अगली वनडे सीरीज में मैच फीस पर 50 फीसदी जुमार्ना भी लगेगा।