ईरान में हिजाब विवाद और बढ़ा:पुलिस कस्टडी में युवती की मौत के बाद महिलाओं ने विरोध में अपने बाल काटे

# ## International

(www.arya-tv.com) ईरान में पुलिस कस्टडी में हुई महसा अमिनी की मौत के बाद राजधानी तेहरान में पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। महिलाएं विरोध जताते हुए अपने बाल काट रही हैं और हिजाब भी जला रही हैं।

एक ईरानी महिला पत्रकार मसीह अलीनेजाद ने अपने सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो शेयर किए हैं। इन वीडियोज में महिलाएं बाल काटते हुए और हिजाब को जलाते हुए दिख रही हैं।

अपने साथ हो रहे अन्याय से परेशान हैं महिलाएं
महिला पत्रकार ने वीडियो के साथ लिखा- ईरान की महिलाएं पुलिस कस्टडी में 22 साल की महसा अमिनी की मौत और हिजाब पहनना मेंडेटरी होने का विरोध ऐसे ही बाल काट कर और हिजाब जला कर दिखा रही हैं।

मसीह ने लिखा- अगर लड़कियां 7 साल की उम्र के बाद अपना सिर कवर नहीं करती हैं तो उन्हें स्कूल जाने नहीं दिया जाता है और न ही उन्हें कहीं नौकरी मिलती है। हम महिलाएं इस भेदभाव, अन्याय और अत्यातार से परेशान हो चुके हैं।

पुलिस का आरोपों से इनकार
महसा अमिनी की मौत के बाद ईरान की राजधानी तेहरान में पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। इधर, पुलिस का कहना है कि पुलिस ने महसा के साथ कोई मारपीट नहीं की। 13 सितंबर को कई लड़कियों को गिरफ्तार किया गया था। उनमें से एक अमिनी थी। उसे जैसे ही पुलिस स्टेशन ले जाया गया वो बेहोश हो गई। वहीं, राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी ने गृह मंत्री को इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

ईरान में हिजाब न पहनने वाली महिलाएं गिरफ्तार, मशहूर एक्ट्रेस से TV पर मंगवाई माफी

28 साल की सेपदेह रोश्नो ने हिजाब पहनने से इनकार कर दिया था। इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया। बेहद टॉर्चर किया गया। बाद में नेशनल टीवी पर आकर माफी मांगने को कहा गया, ताकि हिजाब पहनने के तालिबानी फरमान को न मानने वाली महिलाओं के मन में दहशत पैदा की जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *