‘मुस्कुराइए कि आप लखनऊ में है’ को साकार कर रहा लखनऊ नगर निगम : महापौर संयुक्ता भाटिया

Lucknow
  • पंडित बृजेश कुमार​ मिश्रा

(www.arya-tv.com)‘स्वच्छ वायु सर्वेक्षण’ की नेशनल रैंकिंग में लखनऊ को ‘न०1 शहर’ का गौरव प्राप्त होने के उपलक्ष्य में महापौर संयुक्ता भाटिया ने यह हमारे लखनऊ के लिए गर्व का विषय है कि हमने स्वच्छ वायु सर्वेक्षण में देश के सभी शहरों को पीछे छोड़ा है और हम देश के न० 1 आये है। महापौर ने कहा कि विगत 5 वर्षों में हमने वायु गुणवत्ता सुधार पर कार्य किया है और यह इसी का परिणाम है।  लखनऊवासियो के लिए लखनऊ में “इज ऑफ लिविंग स्टैण्डर्ड” को सर्वोत्तम बनाने के लिए सभी बिंदुओं पर कार्य कर रहे है। आज प्रदेश ही नहीं देश का प्रत्येक परिवार चाहता है कि मेरा भी एक घर लखनऊ में हो जिससे हम सकून से जी सके। लखनऊ नगर निगम शहर को लाजवाब बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है साथ ही “मुस्कुराइए कि आप लखनऊ में है” को सार्थक करने में लगातार प्रयासरत है लखनऊ नगर निगम परिवार।

महापौर संयुक्ता भाटिया ने आगे कहा कि मुस्कुराइये आप लखनऊ में हैं, यह सिर्फ कुछ शब्द नहीं, बल्कि जज्बात हैं उन लोगों के जो लखनऊ में रहते हैं और जो यहां घूमने आते हैं। संस्कृति, शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा, अर्थव्यवस्था, किफायती आवास, भूमि योजना, पार्क, परिवहन, जल आपूर्ति, कचरा प्रबंधन और पर्यावरण की गुणवत्ता जैसे 15 मानकों पर पुराना शहर लखनऊ कैसे नया इतिहास लिख रहा है। देश में रहने के हिसाब से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का कोई जवाब नहीं। केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय द्वारा को ‘ईज ऑफ लिविंग’ (Ease of Living) सर्वे जारी करने जा रहा है। हमारी लखनऊ की जनता से अपील है कि वो इस सर्वे में अपनी सहभागिता दें और अपने शहर लखनऊ को पहले पायदान पर लाने में सहयोग दें।

भविष्य में और सुधार के लिए तैयारी हैं हमारी 

महापौर ने बताया कि अगले 6 महीनों के लिए हमारा ऐक्शन प्लान तैयार है, हवा को साफ रखने के लिए आवासीय समितियों और स्कूल विद्यालयों के बच्चों को साथ लेकर अभियान चलाया जाएगा। NGO के साथ मिलकर चौराहों पर रेड लाइट होने पर गाडियों को बंद करके पॉल्यूशन कंट्रोल करने हेतु योजना पर अमल किया जाएगा।

महापौर ने आगे कहा कि लखनऊ में पर्यवारण की सेहत सुधारने हेतु विगत 5 वर्षों से ही प्रयासरत थी। वायु को गुणवत्ता सुधारने के लिए ही लालबाग स्थित नगर निगम मुख्यालय के सामने कृतिम फेफड़ों को लगवाया था ताकि वायु की गुणवत्ता को जाँचा जा सके। तत्पश्चात वायु गुणवत्ता सुधार हेतु काम करने के लिए संसाधनो को जुटाने के क्रम में 9 रोड स्वीपिंग मशीने, 8 एन्टी स्मोक गन, 40 वाटर स्प्रिंकल मशीनों को 15वें वित्त आयोग से खरीदे गए। साथ ही अटल उदय वन व अन्य कई वाटिकाओं का निर्माण करा उक्त स्थानों पर लाखों पौधे भी लगाए गए। विगत 5 वर्षों में 1500 से ज्यादा पार्को का सौंदर्यकरण और ग्रीनरी भी कराई गयी। इसके अतिरिक्त वायु गुणवत्ता में सबसे प्रमुख कार्य शहर के अलग अलग 6 स्थानों पर एयर क़्वालिटी मोंटरिंग स्टेशन का निर्माण कराया गया जिससे एयर क्वालिटी इंडेक्स (ए०क्यू०आई) की हर समय निगरानी हो रही है, जिसे स्मार्ट सिटी के कंट्रोल रूम से कनेक्ट किया गया है। साथ ही गिरते एयर क्वालिटी इंडेक्स (ए०क्यू०आई) को सुधारने हेतु 20 करोड़ की लागत से शहर में 22 स्थानों पर एयर प्यूरीफायर लगाए गए है जो एयर क्वालिटी में लगातार सुधार कर रहे है।

यह मेरे साथ ही लखनऊवासियों को गर्व करने का स्वर्णिम अवसर है 

इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया ने बताया कि लखनऊ की देवतुल्य जनता को स्वच्छता प्रदान करना और स्वास्थ्य की चिंता करना मेरी पहली प्राथमिकता रही हैं। मैंने लखनऊ को न०1 शहर बनाने का वायदा जनता से किया था, आज स्वच्छ वायु सर्वेक्षण 2022 में लखनऊ देशभर में न०1 शहर बना है और मैंने जनता से किया हुआ वायदा पूरा करने में सफलता प्राप्त की है। इस रैंकिंग से लखनऊवासियों का “इज ऑफ लिविंग स्टैंडर्ड” बढेगा। आगे और सुधार हेतु प्रयासरत रहूँगी। यह मेरे साथ ही लखनऊवासियों को गर्व करने का स्वर्णिम अवसर है।

महापौर ने जनता का जताया आभार 

महापौर ने कहा कि इस उपलब्धि के लिए मैं देश के रक्षामंत्री और लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह , उत्तर प्रदेश के  मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ और नगर विकास मंत्री ए०के० शर्मा  और प्रभारी मंत्री  सुरेश खन्ना  के मार्गदर्शन के साथ की लखनऊ की  जनता का सहयोग प्रदान करने के लिए आभार जताती हूँ। महापौर ने लखनऊ नगर निगम के अधिकारियों, पार्षदों सहित समस्त नगर निगम परिवार का भी आभार जताया है।

वायु गुणवत्ता सुधार की रैंकिंग को बनाये रखने के लिए कूड़ा जलाने पर जुर्माना और अन्य कड़े कदम उठाने के संकेत देते हुए महापौर ने कहा कि कूड़ा/प्लास्टिक आदि जलाने पर सरकार के नियमों के अंतर्गत जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही वायु गुणवत्ता सुधार हेतु अन्य आवश्यक कदम उठाते हुए जनता से सुझाव भी मंगवाया जाएगा।

इस अवसर पर महापौर संग नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह, अपर नगर आयुक्त डॉ अरविंद राव, पर्यावरण अभियंता प्रधान, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी अशोक सिंह, मुख्य अभियंता महेश वर्मा आदि नगर निगम के अधिकारी मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *