ट्रंप के इस ऐलान पर पीएम मोदी बोले शुक्रिया, मिलकर कोरोना से लड़ेंगे

# ## International

अमेरिका और भारत के रिश्ते कैसे हैं इस बात का अंदाजा पीएम मोदी की दरियादिली के बाद ट्रंप के एक फैसले से लगाया जा सकता है। जिसमें ट्रंप ने ऐलान किया है कि वह भारत को कोरोना वायरस संकट के बीच 200 वेंटिलेटर दान में देगा। ट्रंप के इस ऐलान के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिक्रिया आई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्रंप को धन्यवाद दिया और कहा कि इस महामारी के खिलाफ सामूहिक तौर पर लड़ाई लड़ी जा रही है। भारत और अमेरिका की दोस्ती को और मजबूती मिले। दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार (15 मई) को कहा कि अमेरिका कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा है। ट्रंप ने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना बहुत अच्छा मित्र बताया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘धन्यवाद राष्ट्रपति ट्रंप। यह महामारी सामूहिक रूप से हम सभी द्वारा लड़ी जा रही है। ऐसे समय में राष्ट्रों को एक साथ काम करने और दुनिया को स्वस्थ बनाने और कोविड-19 से मुक्त करने के लिए जितना संभव हो उतना काम करना जरूरी है। भारत और अमेरिका की दोस्ती को और अधिक शक्ति मिले।’

डोनाल्ड ट्रंप ने अपने ट्वीट में क्या कहा है
‘मुझे ये घोषणा करते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि संयुक्त राज्य अमेरिका, भारत में हमारे दोस्तों को वेंटिलेटर दान करेगा। हम इस महामारी के दौरान भारत और नरेंद्र मोदी के साथ खड़े हैं। हम वैक्सीनि बनाने में भी सहयोग कर रहे हैं। साथ मिलकर हम अदृश्य दुश्मन को हरा देंगे।’

तीन सप्ताह में अमेरिका से आएंगे वेंटिलेटर

सूत्रों की मानें तो अमेरिका ने भारत को करीब 200 वेंटिलेटर दान करने का ऐलान किया है। सरकारी अधिकारी ने कहा कि ऐसे संकेत दिए गए हैं कि वेंटिलेटर की ये खेप इस महीने के अंत या फिर जून पहले सप्ताह तक भारत में आ जाएगी। एक वेंटिलेटर की कीमत करीब दस लाख रुपये ($ 13,000 यानी 9.6 लाख रुपये) आंकी गई है। इसमें ट्रांसपोर्टेशन की लागत शामिल नहीं है। कुल मिलाकर 200 वेंटिलेटर पर 2.6 मिलियन अमेरिकी डॉलर (यानी करीब 20 करोड़) की कीमत आएगी।

वैक्सीन पर ट्रंप ने क्या कहा
भारतीय-अमेरिकी को महान वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता बताते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि भारत और अमेरिका साथ मिल कर कोविड-19 का टीका विकसित करने में जुटे हुए हैं। ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा कि इस साल के अंत तक कोविड-19 का टीका विकसित होने की संभावना है।

भारत के लिए ट्रंप ने क्या कहा
डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘मैं कुछ ही समय पहले भारत से लौटा हूं और हम भारत के साथ मिल कर काम कर रहे हैं। अमेरिका में भारतीय बहुत बड़ी संख्या में हैं और आप जिन लोगों के बारे में बात कर रहे हैं उनमे से कई लोग टीका विकसित करने में जुटे हुए हैं। बेहतरीन वैज्ञानिक और अनुसंधानकर्ता।’

भारत ने दिखाई थी दरियादिली

आपको बता दें कि भारत ने डोनाल्ड ट्रंप के अनुरोध पर पिछले महीने कोविड-19 के मरीजों इलाज के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की पांच करोड़ गोलियां अमेरिका भेजी थीं। इससे पहले ट्रंप ने भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की थी। उन्होंने फरवरी में अपनी नई दिल्ली, अहमदाबाद तथा आगरा की यात्रा का जिक्र करते हुए कहा, ‘भारत महान देश है और आप जानते हैं कि आपके प्रधानमंत्री मेरे बहुत अच्छे मित्र हैं। ‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *