मेरठ में महिला हेडकांस्टेबल के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा

Meerut Zone

मेरठ (www.arya-tv.com) मेरठ में महिला हेडकांस्टेबल के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मुकदमा सिविल लाइन थाने में दर्ज किया गया। एंटी करप्शन द्वारा दर्ज कराए मुकदमे में आय से 128 फीसदी ज्यादा संपत्ति होने की बात कही गई है।

पति से चल रहा विवाद

सिविल लाइंस के मानसरोवर में रहने वाली महिला हेडकांस्टेबल मीनाक्षी चौधरी पल्लवपुरम की सहकारिता प्रकोष्ठ में तैनात है। मीनाक्षी का पति अमित कुमार से काफी पुराना विवाद चल रहा है। अमित की तरफ से दो साल पहले एंटी करप्शन में मीनाक्षी चौधरी के खिलाफ आय से अधिक संपति होने की शिकायत की गई थी। मानसरोवर में करोड़ों का मकान है। होंडा सिटी गाड़ी का प्रयोग करती है।

128 फीसदी संपत्ति ज्यादा

शिकायत पर डीआइजी ने जांच के आदेश दिए थे। जांच में सामने आया कि मीनाक्षी चौधरी के पास आय से 128 फीसदी संपत्ति ज्यादा है। इसके बाद इंस्पेक्टर सूरज सिंह की तरफ से मीनाक्षी के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया। बता दें कि मीनाक्षी 1998 बैच की महिला कांस्टेबल हैं, जो नियुक्ति के बाद से मेरठ में तैनात है। हालांकि, एक बार उनका स्थानांतरण वाराणसी कर दिया गया था।

इनका कहना है

एंटी करप्शन द्वारा निष्पक्ष जांच नहीं की गई है। मेरे पति अमित कुमार के दबाव में अत्यधिक संपत्ति दर्शाई गई है। अमित दारोगा और इंस्पेक्टर जैसे पदों पर रह चुके हैं, हम दोनों ने साथ रहते हुए यह संपत्ति बनाई थी। जिस पर बैंक का लोन भी हैं, उसकी किस्त लगातार जा रही है। अमित के खिलाफ दुष्कर्म जैसे संगीन मुकदमे चल रहे हैं। सबसे अहम बात है कि इंस्पेक्टर केपी सिंह ने बिना पक्ष लिए ही अनर्गल रिपोर्ट पेश की है। केपी सिंह की शिकायत भी शीर्ष अफसरों से की गई थी।