भारत सरकार के दूर संचार विभाग ने 6जी के लिए बनाई टास्क फोर्स

Kanpur Zone UP

(www.arya-tv.com) टेलीकम्युनिकेशन के क्षेत्र में 6जी तकनीकी के विकास के लिए भारत सरकार के दूरसंचार विभाग ने प्रौद्योगिकी नवाचार समूहों के रूप में छह शिक्षाविदों के टास्क फोर्स का गठन किया गया है। जिसमें आइआइटी कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर को भी जिम्मेदारी सौंपी गई है।

आइआइटी के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने ट्वीट करके बताया कि 30 दिसंबर को दूरसंचार विभाग की ओर से नोटिफिकेशन किया गया है। इसके तहत 31 मार्च तक विभाग को 6जी टेक्नोलाजी की मैपिंग, विश्वस्तर पर क्षमता, स्टैंडर्ड कार्यों के साथ अनिवार्य रूप से देनी है।

टास्क समूहों का नेतृत्व आइआइटी चेन्नई के निदेशक भास्कर राममूर्ति, आइआइटी कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर, इंडियन इंस्टीट्यूट आफ साइंस बेंगलुरू के निदेशक भारद्वाज अम्रुतुर, आइआइटी हैदराबाद के निदेशक किरन कुमार कुची करेंगे। यह समूह अगली जेनरेशन नेटवर्क के लिए प्लेटफार्म, स्पेक्ट्रम पॉलिसी, मल्टी डिसिप्लिनरी इनोवेटिव सोल्यूशन और उपकरणों का विकास करेगा।

स्पेक्ट्रम की पहचान करेगा समूह : टास्क फोर्स 6जी के लिए स्पेक्ट्रम और स्पेक्ट्रम से संबंधित अन्य मुद्दों की पहचान करने के लिए काम करेगा। यही नहीं वैश्विक मानकों में भागीदारी के साथ ही भारत के लिए मिशन, उद्देश्य और रोडमैप के संबंध में 6जी पर श्वेतपत्र में भी योगदान देंगे। उन्हें शुभकामनाएं देते हुए अन्य वैज्ञानिकों ने लिखा है कि अनुसंधान एवं विकास और उत्पाद के मानकीकरण के निर्माण को बढ़ावा देने, बाजार की तैयारी सुनिश्चित करने और प्रौद्योगिकी व्यावसायीकरण में तेजी लाने की दिशा में यह प्रशंसनीय कदम है।

Leave a Reply