कॉलेज परीक्षाओं पर कोरोना इफेक्ट:MP में विश्वविद्यालय की परीक्षाएं अप्रैल की जगह मई में होंगी

Education

(www.arya-tv.com)मध्य प्रदेश के विश्वविद्यालयों में होने वाली परीक्षा पर भी अब कोरोना वायरस का असर पड़ने लगा है। यही कारण है कि अप्रैल में आयोजित होने वाली सभी प्रकार की परीक्षाएं अब मई में प्रारंभ होगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को आयोजित बैठक में दिशा निर्देश जारी कर दिए।

मई 2021 में UG अंतिम वर्ष एवं PG चौथे सेमेस्टर की परीक्षाएं परीक्षार्थियों (नियमित और प्राइवेट) को परीक्षा केंद्रों पर ही देनी होंगी। गृह विभाग, स्वास्थ्य विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा कोविड-19 के संबंध में जारी निर्देशों का पालन महाविद्यालयों को कराना होगा।

मध्यप्रदेश में हायर एजुकेशन की स्थिति

  • स्नातक अंतिम वर्ष के 4.30 लाख एवं स्नातकोत्तर चौथे सेमेस्टर के 1.72 लाख परीक्षार्थी प्रदेश के आठ विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित परीक्षा में शामिल होंगे।
  • UG पहले एवं दूसरे वर्ष तथा स्नातकोत्तर दूसरे सेमेस्टर की परीक्षा ओपन पद्धति से जून 2021 में आयोजित की जाएंगी।
  • इसमें परीक्षार्थी द्वारा अपने निवास में ही रहकर परीक्षा देंगे तथा निकट के निर्धारित संग्रहण केंद्र में उत्तर पुस्तिका जमा करेंगे।
  • स्नातक पहले वर्ष में 5.33 लाख एवं स्नातक द्वितीय वर्ष में 5.25 लाख, स्नातक दूसरे सेमेस्टर के 1.35 लाख परीक्षार्थी प्रदेश के 8 विश्वविद्यालयों द्वारा आयोजित परीक्षा में शामिल होंगे।
  • वर्तमान में 8 शासकीय विश्वविद्यालय में 665 परीक्षा केंद्र के साथ आवश्यकता अनुसार अतिरिक्त सहपरीक्षा केंद्र बनाए जाने के लिए विश्वविद्यालय को निर्देशित किया गया है।
  • परीक्षा केंद्र में विद्यार्थियों की 50% उपस्थिति के साथ बैठक हो सकती है।