सी.एम.एस. ने अपने मेधावी छात्रों का किया सम्मान

Lucknow

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, चौक कैम्पस, इन्दिरा नगर द्वितीय कैम्पस एवं राजाजीपुरम प्रथम कैम्पस के मेधावी छात्रों को आज ‘डिवाइन एजुकेशन कान्फ्रेन्स में तीनों कैम्पसों के ‘डिवाइन एजुकेशन कान्फ्रेन्स’ में उन मेधावी छात्रों को सम्मानित किया गया, जिन्होंने वर्ष भर विभिन्न राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगी परीक्षाओं, साँस्कृतिक कार्यक्रमों, खेलकूद प्रतियोगिताओं एवं वार्षिक परीक्षा में टॉप कर विद्यालय का गौरव बढ़ाया है।सी.एम.एस. चौक कैम्पस द्वारा ‘डिवाइन एजुकेशन कान्फ्रेन्स’ का आयोजन सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में किया गया। मुख्य अतिथि श्री दानिश आजाद अंसारी, राज्यमंत्री, अल्पसंख्यक कल्याण, उ.प्र. ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का उद्घाटन किया। इस अवसर बोलते हुए श्री दानिश आजाद अंसारी ने कहा कि यदि हम छात्रों में प्रारम्भ से अच्छे विचारों का बढ़ावा देंगे तो उनमें मानवीय गुणों के विकास के साथ ही बुद्धिमत्ता व ज्ञान में वृद्धि होगी। इस अवसर पर सी.एम.एस. चौक कैम्पस की प्रधानाचार्या श्रीमती अदिति शर्मा ने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम बच्चों के सर्वांगीण विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

सी.एम.एस. इन्दिरा नगर द्वितीय कैम्पस (यूनाईटेड वर्ल्ड कैम्पस) द्वारा ‘डिवाइन एजुकेशन कान्फ्रेन्स’ का आयोजन सी.एम.एस. गोमती नगर द्वितीय कैम्पस ऑडिटोरियम में किया गया। समारोह का शुभारम्भ सी.एम.एस. प्रबन्धक प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने दीप प्रज्वलित कर किया। अभिभावकों को संबोधित करते हुए प्रो. किंगडन ने कहा कि शिक्षा का उद्देश्य मनुष्य के लिए उसके अंदर छिपी शक्तियों तथा क्षमताओं को विकसित करना है। इस अवसर पर बोलते हुए प्रधानाचार्या श्रीमती निशा पाण्डेय ने कहा कि छात्रों को भौतिक व सामाजिक शिक्षा प्रदान करने के साथ ही उनका चरित्र निर्माण भी बहुत आवश्यक है। सी.एम.एस. अपने छात्रों को व्यापक तथा समाजोपयोगी ज्ञान अर्जित करने के लिए प्रेरित करता है, जिससे ये छात्र आगे चलकर विश्व समाज का कल्याण कर सकें।