आर्यकुल कॉलेज में मनाई गई संत शिरोमणि रविदास जी की जयंती

Lucknow

लखनऊ के बिजनौर स्थित आर्यकुल कॉलेज में संत शिरोमणि रविदास जी की 647 वीं जयंती मनाई गई। कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रबंधक निदेशक डॉ. सशक्त सिंह ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर सभी शिक्षक गण व स्टाफ ने संत शिरोमणि रविदास जी के चरण कमलों में पुष्पांजलि अर्पित की। सभी ने राष्ट्रीय गान गाया।

कॉलेज के प्रबंधक निदेशक डॉ. सशक्त सिंह ने उपस्थित छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि महापुरुषों ने जन्म लेकर अपने अमृत रूपी वचनों से समाज का कल्याण करने के लिए अपना जीवन लगा दिया। इन महापुरुषों में संत रविदास भी शामिल रहे। संत रविदास ने ‘मन चंगा कठौती में गंगा’ संपूर्ण संसार को संदेश दिया। उन्होंने अपनी शिक्षाओं और उपदेश से लोगों के जीवन को समृद्ध बनाया है और लोगों के जीवन जीने के विशिष्ट गुण सिखाए हैं।

इस दौरान कॉलेज के प्रवक्ता डॉ. गौरव मिश्रा ने कहा कि हर साल माघ पूर्णिमा या माघ महीने की पूर्णिमा के दिन गुरु रविदास जयंती मनाई जाती है। जिन्हें प्रेम और करुणा की शिक्षाओं के लिए जाना जाता है। उन्होंने ने संत रविदास के जीवन पर प्रकाश डालते हुए छात्रों को उनसे सीख लेने की शिक्षा दी।

इस अवसर पर आर्यकुल ग्रुप ऑफ कॉलेज के प्रबंध निदेशक डॉ. सशक्त सिंह, फार्मेसी विभाग के उप निदेशक डॉ. आदित्य सिंह, फार्मेसी विभाग के एचओडी बी.के सिंह, प्रबंध- पत्रकारिता एवं शिक्षा विभाग की उप निदेशक डॉ. अंकिता अग्रवाल, एच. आर. नेहा वर्मा, शिक्षा विभाग के एचओडी प्रणव पांडे, शिक्षा विभाग के प्राचार्य एस.सी.तिवारी,प्रियंका केशरवानी, विनिता दीक्षित, डॉ.स्नेहा सिंह, डॉ. काशिफ शकील, डॉ. अंकिता श्रीवास्तव, रॉनी, राजेश मौर्य, व्योमा सेठ, ममता पाण्डेय, दीपिका कुमारी, देवेंद्र सिंह, दीप्ति सिंह, मोहिनी सिंह, के साथ अन्य शिक्षक गण व स्टाफ उपस्थित रहे।