विधानसभा चुनाव 2022: समाजवादी पार्टी में टिकट वितरित होते ही नाराजगी का दौर हुआ शुरू, लखनऊ तक पहुंच मामला

Prayagraj Zone

(www.arya-tv.com) उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर समाजवादी पार्टी में टिकट वितरित होते ही नाराजगी का दौर भी शुरू हो गया है। गुरुवार को दिन में सपा नेत्री मंजू पाठक ने कार्यकर्ताओं के साथ जार्जटाउन स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचकर धरना दिया था। टिकट न दिए जाने की बात कहते हुए कई आरोप लगाए।

हालांकि कुछ देर बाद जिलाध्यक्ष ने सभी से वार्ता कर मामला शांत कराया। इसके अलावा मेजा, फूलपुर और हंडिया में भी कार्यकर्ता विरोध कर रहे हैं। यह पूरा प्रकरण लखनऊ तक पहुंच गया है। शीर्ष नेतृत्व के सामने नाराज कार्यकर्ताओं को संतुष्ट करने की बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है।

सपा कार्यालय पर धरने पर बैठीं सपा नेत्री मंजू पाठक की नाराजगी शहर उत्तरी से टिकट न मिलने की थी। कहा गया कि उत्तरी सीट से कई लोगों ने आवेदन कर रखा था। टिकट के प्रबल दावेदार कई थे। हालांकि लखनऊ सिर्फ दो आवेदकों को ही क्यों बुलाया गया था। जिलाध्यक्ष योगेश यादव पहुंचे और सभी को समझाया। शहर उत्तरी के साथ ही जिले की कई ऐसी सीटें हैं, जहां टिकट वितरण के बाद कार्यकर्ताओं में नाराजगी है।

सपा जिलाध्यक्ष योगेश यादव का कहना है कि लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय पर सयुस के प्रदेश उपाध्यक्ष संदीप यादव और भूपेंद्र श्रीवास्तव पीयूष को बुलाया गया था, जहां राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दिन में दोनों से बातचीत की और देर शाम को संदीप यादव को टिकट दे दिया गया।

इससे पहले 2017 में भी संदीप यादव को शहर उत्तरी से टिकट दिया गया था, लेकिन कांग्रेस से हुए गठबंधन में सीट चली गई थी। उनका कहना है कि नाराजगी जताने वाले मंजू पाठक से बातचीत की गई है। आश्वासन दिया गया है कि प्रदेश अध्यक्ष से बातचीत कर उनकी बात राष्ट्रीय अध्यक्ष से कराई जाएगी।

प्रयागराज के सपा जिलाध्यक्ष के आश्वासन पर मामला जरूर शांत हो गया, लेकिन शीर्ष नेतृत्व तक प्रकरण पहुंचने से अब नाराज कार्यकर्ताओं को मनाने की कवायद शुरू हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *