झोलाछाप के खिलाफ स्वास्थ्य विभाग को मिला बड़ा सुराग

Bareilly Zone Health /Sanitation UP

बरेली।(www.arya-tv.com) हजियापुर में कोरोना पॉजिटिव की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग के हाथ बड़ा सुराग लगा है। झोलाछाप के क्लीनिक में मोहल्ले का ही एक युवक काम करता था। विभाग ने उसकी तलाश शुरू कर दी है। उससे पूछताछ में अहम जानकारी मिलने की उम्मीद है।

ब्रह्मपुरा में मां बेटे के कोरोना संक्रमण का सोर्स भी नहीं पता चल पा रहा है। युवक के साथ काम करने वालों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब मां बेटा से जुड़े अन्य संपर्कों को तलाशा जा रहा है। युवक का रिश्ता किला क्षेत्र के एक मोहल्ले में रहने वाली युवती से तय हुआ है, टीम उनसे भी बात कर जांच कराएगी। सीबी गंज क्षेत्र में युवक का एक दोस्त रहता है जो ट्रक चालक है। उससे पूछताछ की गई है।

हजियापुर निवासी कोरोना संक्रमित की मौत के बाद से ही स्वास्थ्य विभाग से उसकी तलाश कर रहा है। लेकिन अब तक उसे सफलता नहीं मिली है उसकी पत्नी समेत नजदीकी संपर्क के अन्य लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब पता चला है कि मृत झोलाछाप के क्लीनिक में मोहल्ले का ही एक युवक कंपाउंडर की तरह काम करता था। सर्विलांस टीम को उसकी तलाश है। उसको पकड़ कर सबसे पहले जांच कराई जाएगी।

हजियापुर में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 20 अप्रैल की मृत महिला के परिजनों से उसकी मौत के बारे में पूछताछ की तो वह गुमराह करने लगे। हालांकि जनाजे में 38 लोगों के शामिल होने की बात स्वीकार की। संक्रमित झोलाछाप उस परिवार के काफी करीब था। और वह भी जनाजे में शामिल हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *