लॉकडाउन के 62 दिनों बाद घरेलू विमान उड़ाने की छूट, सफर करने वालों के लिए ये खास खबर

UP Varanasi Zone

वाराणसी।(www.arya-tv.com) विश्व को अपने चांगुर में लिये वैशविक महामारी कोरोना वायरस के कारण भारत में 24 मार्च से बंद पड़ी विमान सेवाओं में घरेलू विमानों का संचालन सोमवार से प्रारंभ हो गया। 2 महीने बाद सोमवार को 10.35 बजे पहली बार दिल्ली से इंडिगो एयरलाइंस का विमान 155 यात्रियों को लेकर वाराणसी एयरपोर्ट पर पहुंचा। जबकि चार उड़ाने रद कर दी गईं। विमान के आने के बाद 10-10 यात्रियों का ग्रुप बनाकर उनको विमान से बाहर निकाला गया और एयरोब्रिज पर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की गई।

यात्रियों के बैग को भी सैनिटाइज किया गया। इस दौरान शारीरिक दूरी के नियमों को भी ध्यान रखा गया। महाराष्ट्र सरकार द्वारा विमान संचालन की अनुमति नहीं दिए जाने को लेकर सोमवार को भी भ्रम की स्थिति बनी रही। इस दौरान विमान यात्रियों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। विमान यात्रियों द्वारा एयरलाइंस और एयरपोर्ट के अधिकारियों से बार-बार इस बारे में जानकारी ली जाती रही लेकिन अधिकारियों द्वारा भी कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई।

हम मिले ये जरूरी नहीं दिल से दिल मिले तो ईद मुबारक हो

हालांकि दोपहर तक मुंबई से केवल एक विमान वाराणसी एयरपोर्ट पर आया था। इंडिगो एयरलाइंस का विमान 6ई578 दोपहर सवा 12.10 बजे मुंबई से उड़ान भरा था जो 1.54 बजे वाराणसी पहुंचा। इस विमान से पहले मुंबई से आने वाले स्पाइसजेट के विमान एसजी 704, और वाराणसी से मुंबई जाने वाले विमान एसजी 703 को रद कर दिया गया। इसके अलावा वाराणसी-कोलकाता के बीच संचालित होने वाले इंडिगो के विमान 6ई789 और वाराणसी-मुंबई के बीच चलने वाले विमान 6ई106 को भी रद कर दिया गया। दिल्ली से इंडिगो एयरलाइंस का विमान आने से पहले ही जाने वाले यात्री भी एयरपोर्ट पर पहुंच गए और उनकी जांच पड़ताल कर उनको टर्मिनल भवन में प्रवेश दिया गया। यात्रियों के जूते और बैग को बाहर ही सैनिटाइज करवाया जा रहा है।

उसके बाद प्रस्थान गेट पर उनकी थर्मल स्कैनिंग करने के साथ ही बैग को सैनिटाइज करके उनको अंदर प्रवेश दिया जा रहा है। एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप ने कहा की तैयारियां पूरी है और यात्रियों की बारीकी से जांच पड़ताल की जा रही है। सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन कराया जा रहा है। इसके अलावा कहीं कोई चूक और लापरवाही ना हो इस को ध्यान में रखते हुए एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप माथुर और सीआईएसएफ के कमांडेंट सुब्रत झा खुद मोर्चा संभाले हुए हैं और सभी स्थानों पर निगरानी कर रहे हैं।

लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से सोमवार से हवाई सेवा शुरू होने को लेकर रविवार को ही एयरपोर्ट पर अधिकारियों ने जायजा लिया था और बैठक कर यात्रियों की सुविधा व सुरक्षा पर चर्चा की थी। कोरोना वायरस के चलते 24 मार्च से देश के सभी हवाई अड्डों पर कामर्शियल विमानों का आना-जाना बंद कर दिया गया था। अब सोमवार को 62 दिनों बाद विमानों का आवामन फिर शुरू हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *