4 नौकरी से बर्खास्त:डीएम के औचक निरीक्षण में प्राइमरी स्कूल के 103 बच्चों में से 58 मिले गायब

# ## Varanasi Zone

(www.arya-tv.com) वाराणसी के जिलाधिकारी एस. राजलिंगम ने सोमवार को प्राथमिक विद्यालय सिकरौल नंबर-1 का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शिक्षामित्र, आंगनबाड़ी, सहायिका सहित 4 कर्मचारी बगैर सूचना के गायब मिले। इसे लेकर डीएम ने शिक्षामित्र पुष्पा राय, आंगनबाड़ी कार्यकत्री बीना देवी व ममता चौबे और सहायिका पिंकी यादव को नौकरी से बर्खास्त करने का आदेश दिया। डीएम की इस कार्रवाई से जिले के सरकारी विभागों में हड़कंप मचा हुआ है।

साफ-सफाई से लेकर हर जगह मिली गड़बड़ी

डीएम एस. राजलिंगम ने स्कूल में साफ-सफाई की पर्याप्त व्यवस्था न होने पर काफी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने बच्चों से सवाल-जवाब कर शिक्षा की गुणवत्ता परखी तो उनके जवाब से वह संतुष्ट दिखे। कुछ बच्चों के पास किताबें न होने पर डीएम फिर नाराज हो गए। डीबीटी के तहत 12 बच्चों को पैसा नहीं मिला था, इसे लेकर भी डीएम भड़क गए। वहीं, स्कूल के 103 बच्चों में से 45 बच्चे ही उपस्थित पाए गए और 58 गायब थे। इस पर भी नाराजगी जताते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि स्कूल से इतने ज्यादा बच्चे क्यों गैरहाजिर हैं…?

बच्चों को स्कूल लाने की जिम्मेदारी टीचर्स की

डीएम एस. राजलिंगम ने कहा कि बच्चों को स्कूल लाने की जिम्मेदारी यहां के टीचर्स की है। वह पता करें कि आखिर बच्चे क्यों स्कूल नहीं आ रहे हैं…? उन्होंने कहा कि प्राथमिक स्तर से ही बेहतर शिक्षा मिलने से बच्चे भविष्य में अच्छा करेंगे। इसलिए शिक्षा का स्तर बेहतर बनाएं। हर समस्या का निराकरण कराकर बेहतर पठन-पाठन का माहौल बनाएं।

डीएम ने कहा कि सभी टीचर समय से स्कूल आएं और अपने दायित्व का निर्वहन पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ करें। उन्होंने कहा कि बच्चों के अभिभावकों से भी टीचर हमेशा संपर्क बनाए रखें। बच्चों की पढ़ाई को लेकर टीचर उनके अभिभावक को भी प्रेरित करते रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *