आपसी रंजिश में कुछ लोगों को फंसाने के मकसद से युवक ने दे डाली सीएम योगी के आवास को उड़ाने की धमकी, दोनों युवक गिरफ्तार

UP

(www.arya-tv.com) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले गोंडा जिले के रहने वाले दो युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गोंडा के टीकर इलाके के रहने वाले युवकों ने 112 नम्बर पर मैसेज कर सीएम आवास समेत 50 प्रमुख स्थानों को उड़ाने की धमकी थी। पकड़े गए युवकों का नाम मुकेश और राजा बाबू हैं। हजरतगंज के एसीपी अभय मिश्रा की टीम ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।फिलहाल दोनों ने पूछताछ के दौरान बताया कि आपसी रंजिश में कुछ लोगों को फंसाने के मकसद से उन्होंने सीएम आवास को उड़ाने की धमकी दी थी।

लखनऊ व गोंडा पुलिस की संयुक्त टीम को रविवार को इन्हें गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली। कई जिलों की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने मिलकर इनके मोबाइल को ट्रेस कर इनका पता लगाया। गोंडा के एसपी राज करन नय्यर ने बताया कि इनकी मंशा गांव में आपसी रंजिश में कुछ लोगों को फांसने की थी। इसके तहत एक भाई स्वदेश गौड़ उर्फ राजाबाबू ने डायल 112 पर मैसेज कर 50 सरकारी आवास व कार्यालय को उड़ाने की धमकी दी थी।

एसपी ने यह भी बताया कि दूसरे भाई मनीष गौड़ को सबूतों के मिटाने के कारण गिरफ्तार किया गया है। मनीष ने जिस मोबाइल से धमकी भरा मेसेज भेजा था उसको डिस्ट्रॉय कर दिया था लेकिन टेक्निकल एविडेंस के आधार पर इन दोनों की जांच की गई और सारा सच बाहर आ गया। क्राइम ब्रांच लखनऊ की टीम भी इस अभियान में शामिल थी।

72 घंटे पहले दी गई थी धमकी

बीते शुक्रवार को सीएम आवास समेत 50 मुख्य इमारतों को भी बम से उड़ा देने की धमकी मिली थी। सीएम आवास, यूपी 112 की बिल्डिंग समेत 50 प्रमुख स्थान शामिल थे। यह धमकी यूपी पुलिस के 112 कंट्रोल रूम के वॉट्सएप नंबर पर मैसेज भेजकर दी गई थी। इसके बाद सावधानी के तौर पर मुख्यमंत्री आवास, 5 कालीदास मार्ग की सुरक्षा बढ़ा दी गई।

मैसेज भेजकर दी गई धमकी
मैसेज में लिखा था- “हम पूरे यूपी में धमाके करेंगे और सरकार देखती रह जाएगी।” इस धमकी भरे मैसेज के बाद मुख्यमंत्री आवास की डॉग स्क्वाड ने चेकिंग की और मुख्यमंत्री आवास के आसपास के वीआईपी इलाके में भी सघन तलाशी अभियान चलाया गया था। पिछले दिनों महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे से दो युवकों को मुख्यमंत्री को धमकी भेजने के मामले में गिरफ्तार भी किया गया था।