आज वेंटिलेटर से हट सकते हैं राजू श्रीवास्तव:उन्हें आधा लीटर दूध नली से पिलाया गया

# ## Health /Sanitation

(www.arya-tv.com) 58 साल के कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की हेल्थ में लगातार इंप्रूवमेंट हो रहा है। दिल्ली के एम्स में उनका इलाज जारी है। सोमवार को नली से उन्हें आधा लीटर दूध पिलाया गया। आज यानी मंगलवार को उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट से हटाया जा सकता है। हालांकि सोमवार को 1 घंटे के लिए वेंटिलेटर हटाया गया था, लेकिन फिर से वेंटिलेटर सपोर्ट दिया गया।

एम्स में उनके बड़े भाई काजू श्रीवास्तव का भी इलाज चल रहा था। उन्हें आज डिस्चार्ज किया गया है। अब तक उन्हें राजू की बिगड़ी सेहत के बारे में नहीं बताया गया था। आज उन्हें भाई की तबीयत की जानकारी दी गई। राजू पिछले 7 दिनों से वेंटिलेटर सपोर्ट पर ही हैं।

बॉडी ऑर्गन कर रहे हैं काम
राजू श्रीवास्तव के बड़े भाई सीपी श्रीवास्तव ने  बताया,”एम्स दिल्ली में उनका अच्छा इलाज चल रहा है। राजू के सभी बॉडी ऑर्गन बिना वेंटिलेटर सपोर्ट के भी अच्छा काम कर रहे हैं। डॉक्टर कहते हैं कि उन्हें जल्द होश आ जाएगा। मगर एमआरआई रिपोर्ट में एक नस दबी होने का फैक्ट सामने आया है। यही वजह है कि उन्हें एडमिट करने के बाद अब तक होश नहीं आया है।”

भाई सीपी श्रीवास्तव के मुताबिक,”डॉक्टर कहते हैं कि उनके दिमाग के एक हिस्से में ऑक्सीजन सप्लाई नहीं पहुंच रही है। इसकी वजह से वो होश में नहीं आ पा रहे हैं। ब्रेन में कोई इंजरी या क्लॉटिंग नहीं है, जिसे ट्रीट किया जा सके। ऑक्सीजन सप्लाई ब्रेन को शुरू होने में 7 से 15 दिन तक का वक्त लग सकता है। इसका कोई ट्रीटमेंट नहीं है, वे खुद से नैचुरली ठीक हो जाएंगे। उनका इलाज जारी है।”

बुखार आने के बाद बरती जा रही सावधानी
राजू को रविवार को बुखार आने के बाद ICU में परिवार समेत बाहरी लोगों की एंट्री पूरी तरह बंद कर दी गई है। स्टाफ को एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं। बुखार को लेकर हालांकि अभी कोई नया अपडेट डॉक्टर ने जारी नहीं किया है।

PMO लगातार ले रहा है अपडेट
राजू श्रीवास्तव को हार्ट अटैक आने के बाद उनका इलाज दिल्ली एम्स के कॉर्डियक यूनिट के ICU में चल रहा है। PMO से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार राजू श्रीवास्तव का हेल्थ अपडेट ले रहे हैं। दिल्ली के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी एम्स के डॉक्टर से रोजाना हेल्थ अपडेट ले रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *