जौनपुर में अपहृत व्‍यापारी की हत्या, पुलिस मुठभेड़ में बदमाश को लगी गोली

Varanasi Zone

जौनपुर (www.arya-tv.com) खपरहा बाजार से अपहृत व्‍यवसायी अखिलेश जायसवाल (45) की हत्या में वांछित बदमाशों के साथ रीठी गांव के गडरहा पुल के पास बुधवार की भोर में पुलिस मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ में एक बदमाश के पैर में गोली लगी है। पुलिस अभिरक्षा में उसका इलाज ट्रामा सेन्टर वाराणसी में चल रहा है जबकि उसका एक साथी गिरफ्तार हुआ है। बदमाशों की गोली स्वाट प्रभारी आदेश के बूलट प्रूफ जैकेट पर लगी जिससे वे बाल- बाल बच गए।

30 दिसम्बर की रात लगभग साढ़े आठ बजे खपरहा बाजार के किराना व्‍यापारी अखिलेश जायसवाल का बदमाशों ने अपहरण कर लिया था। घटना के सम्बंध में पुलिस ने मंगलवार को एक संदिग्ध को हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो पता चला कि बदमाश अपहृत व्‍यापारी को जलाकर मार दिए है। साक्ष्य मिटाने के लिए वे रीठी गांव के गडरहा पुल के आस- पास मौजूद है। सूचना पर थानाध्यक्ष सन्तोष राय, भीलमपुर चौकी प्रभारी ओम प्रकाश, स्वाट टीम प्रभारी आदेश त्यागी व सर्विलांस प्रभारी रामजनम यादव मौके पर पहुंचकर घेराबंदी की। पुलिस की घेराबंदी देख बाइक सवार दो बदमाशों ने पुलिस टीम पर तमंचे से फायर कर दिया।

बदमाशों द्वारा चलाई गई एक गोली स्वाट टीम प्रभारी आदेश त्यागी के बुलट प्रूफ जैकेट पर लगी। जिससे वे बाल- बाल बच गए। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी गोली चलाई। पुलिस की गोली एक बदमाश के पैर में लगी जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गया। जबकि बाइक से गिरने की वजह से उसके साथी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गोली से घायल बदमाश ने पूछताछ में अपना नाम दीपक सिंह उर्फ टीटू निवासी भुवाकला बताया। जबकि उसके साथी ने अपना नाम राजकुमार सिंह झुन्ना बताया।

वह भी उसी गांव के निवासी है। दोनों बदमाशों के पास से एक- एक तमंचा बरामद हुआ है। घायल को इलाज हेतु पुलिस ने जिला अस्पताल में भेज दिया जहां हालत गम्भीर होने पर चिकित्सकों ने बेहतर इलाज हेतु वाराणसी ट्रामा सेंटर भेज दिया। पुलिस की माने तो अपहृत व्‍यापारी की जली हुई अस्थियां व बाल के अवशेष बरामद हुए हैं। इस बाबत जांच की जा रही है, जल्‍द ही पूरी स्थिति स्‍पष्‍ट हो जाएगी।

Leave a Reply