BYD भारत में नहीं लगा पाएगा EV मैन्युफैक्चरिंग प्लांट:सरकार ने प्रस्ताव ठुकराया

Technology

(www.arya-tv.com) चीन की इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने वाली कंपनी BYD मोटर्स भारत में अपना EV मैन्युफैक्चरिंग प्लांट स्थापित नहीं कर पाएगी। सरकार ने कंपनी के 1 बिलियन डॉलर (लगभर ₹8199 करोड़) की EV मैन्युफैक्चरिंग प्लांट स्थापित करने के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है।

इकोनॉमिक टाइम्स (ET) की रिपोर्ट के अनुसार, BYD हैदराबाद की मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (MEIL) के साथ पार्टरशिप करके EV बनाने के लिए प्लांट लगाना चाहती थी, जिसके लिए कंपनी ने उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) के पास प्रस्ताव प्रस्तुत किया था।

इसके बाद DPIIT ने विभिन्न विभागों से इसके बारे में इनपुट मांगा था। चर्चा के दौरान सेफ्टी को लेकर कई सवाल उठाए थे। ET को एक अधिकारी ने बताया कि देश के मौजूदा नियम ऐसे निवेश की अनुमति नहीं देते हैं।

भारत में इलेक्ट्रिक SUV-सेडान बेचती है कंपनी
अभी BYD भारतीय मार्केट में इलेक्ट्रिक SUV एटो 3, इलेक्ट्रिक सेडान e6 बेचती है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी भारत में जल्द ही एक और अपनी इलेक्ट्रिक कार लॉन्च कर सकती है। बिक्री के हिसाब से अभी BYD दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक व्हीकल मेकर कंपनी है।

अभी सड़क, पुल और बिजली संयंत्र बनाती है मेघा इंजीनियरिंग
हैदराबाद की इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर अभी सड़क, पुल और बिजली संयंत्र बनाती है। निवेश प्रस्ताव में BYD और मेघा इंजीनियरिंग भारत में चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के साथ रिसर्च, डेवलपमेंट और ट्रेनिंग सेंटर भी स्थापित करना चाहती थीं।