फाइनेंशियल सेवा क्षेत्र में महिंद्रा को ग्रेट प्‍लेस टू वर्क इंस्‍टीट्यूट

Business
  • फाइनेंशियल सेवा क्षेत्र में महिंद्रा की तीन कंपनियों को ग्रेट प्‍लेस टू वर्क इंस्‍टीट्यूट ने भारत के सर्वोत्‍तम कार्य-स्‍थलों में जगह दी

(www.arya-tv.com)महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज, जो ग्रामीण एवं शहरी भारत में विविधीकृत वित्‍तीय समाधानों का अग्रणी प्रदाता है, की तीन कंपनियों को ग्रेट प्‍लेस टू वर्क® इंस्‍टीट्यूट (जीपीटीडब्‍ल्‍यू) द्वारा भारत में कार्य करने के लिए वर्ष 2020 की सर्वोत्‍तम कंपनियों के बीच जगह दी गयी। भारत के कार्यस्‍थलों पर कराये गये सबसे बड़े अध्‍ययन में महिंद्रा इंश्‍योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड 10वें स्‍थान पर, महिंद्रा रूरल हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड 19वें स्‍थान पर और महिंद्रा फाइनेंस 25वें स्‍थान पर रहा।

इस अध्‍ययन में 21 से अधिक उद्योगों के 2.1 मिलियन से अधिक कर्मचारियों की राय के आधार पर निष्‍कर्ष निकाला गया। जीपीटीडब्‍ल्‍यू के अनुसार, कंपनियों को सभी के लिए सर्वोत्‍तम कार्यस्‍थल बनाने और हाई-ट्रस्‍ट, हाई-परफॉर्मेंस कल्‍चर के 5 मानकों – विश्‍वसनीयता, सम्‍मान, निष्‍पक्षता, स्‍वाभिमान और भाईचारा की दृष्टि से उत्‍कृष्‍टता हेतु यह सम्‍मान दिया गया। महिंद्रा फाइनेंस के वाइस चेयरमैन व एमडी और महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज सेक्टर के प्रेसिडेंट, रमेश अय्यर ने कहा, हम बेहद खुश हैं कि हमारी तीन कंपनियों ने भारत के बेस्ट वर्कप्लेस 2020 के बीच फीचर किया है। हमने हमेशा एक उच्च विश्वास और उच्च स्तरीय संस्कृति बनाने पर बहुत जोर दिया है ।

कर्मचारियों के साथ जुड़ना, उनका सम्मान करना, सहयोग को प्रोत्साहित करना और उन्हें व्यवसाय में योगदान देने के लिए अतिरिक्त मील जाने के लिए प्रेरित करना, यही वह चीज है जो हमें काम करने के लिए एक बेहतरीन जगह बनाती है।”महिंद्रा फाइनेंस को इस साल की शुरुआत में ग्रेट प्लेस टू वर्क इंस्टीट्यूट द्वारा एशिया 2020 में 6 वें सर्वश्रेष्ठ बड़े कार्यस्थल का स्थान दिया गया था। ग्रेट प्लेस टू वर्क इंस्टीट्यूट, हाई-ट्रस्ट, हाई-परफॉर्मेंस कल्चरबनाने, बनाए रखने और पहचान के लिए ’ग्लोबल अथॉरिटी’ है। वर्कप्लेस कल्चर असेसमेंट में श्गोल्ड स्टैंडर्ड माना जाने वाला ग्रेट प्‍लेस टू वर्क, कंपनी में कर्मचारियों की प्रतिक्रिया और लोगों के व्यवहार की गुणवत्ता के आधार पर पूरी तरह से सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों की पहचान करता है। कोई जूरी या व्यक्ति मूल्यांकन के परिणामों को प्रभावित नहीं कर सकता है।