सेल सुरक्षा संगठन सुरक्षा अनुभूति 2020 प्रतियोगिता के परिणाम घोषित

National

दल्लीराजहरा (www.arya-tv.com)। सेल सुरक्षा संगठन (राँची) दवारा सेल स्तर पर सुरक्षा अनुभूति 2020 प्रतियोगिता सेल के विभिन्न संयंत्रों एवं समस्त खदानों के लिए विगत जून माह में आयोजित की गयी थी 7 इस श्रेणियों में इलेक्ट्रिकल सुरक्षा, क्रेन सुरक्षा तथा सड़क सुरक्षा शामिल थी।

इस प्रतियोगिता में सेल के विभिन्न इकाइयों तथा खदानों द्वारा भाग लिया गया । उक्त प्रतियोगिता में लौह अयस्क खदान समूह के अंतर्गत झरनदल्ली खदान द्वारा भी भाग लिया गया था। प्रतियोगिता में भाग लेने हेतु झरनदल्ली खदान के वरिष्ठ प्रबंधक अरविन्द पटेल व माइंस फोरमेन बबलू प्रसाद द्वारा संयुक्त प्रस्तुति दी गयी। इस प्रतियोगिता में झरनदल्ली खदान की प्रस्तुति को सड़क सुरक्षा की श्रेणी में सेल स्तर पर तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।

इस अवसर पर कार्यपालक निदेशक (खदान एवं रावघाट) मानस विश्वास, मुख्य महाप्रबंधक तपन सूत्रधार, कैलाश मल्होत्रा महाप्रबंधक प्रभारी, तथा सत्येन्द्र कुमार उप महाप्रबंधक सुरक्षा लौह अयस्क खदान समूह राजहरा द्वारा अपने सारगर्भित संबोधन कर विजेताओं को पुरस्कृत करते हुए बधाई दी एवं खदान के विभिन्न क्षेत्रो में सुरक्षा में योगदान देने का आव्हान किया गया। ज्ञात हो कि झरनदल्ली खदान से लौह अयस्क राजहरा खदान के बंकर में टिप्परो के माध्यम से भेजा जाता है।

जिसकी दूरी लगभग 4 कि.मी. की है। इसके बीच में स्टेट हाइवे न. 05 पड़ता है।  स्टेट हाइवे न. 05 के करीब अंधा मोड़ था जिसमें खदान से जाने वाली टिप्परों को स्टेट हाइवे की गाडिय़ां अचानक मिलती थी इस अंधे मोड़ को पहाड़ी काट कर चौड़ा किया गया। तथा सुरक्षा के लिए रेल पोल से सुरक्षा रेलिंग बनया गया जिससे की स्टेट हाइवे 5 के पहँच मार्ग का दृश्यता बढ़ गयी तथा अब 100 मीटर की दूरी से गाडियां दिखने लगी।

 जिससे अंधा मोड़ अब पूर्णत: सुरक्षित हो गया झरनदल्ली खदान से राजहरा खदान बंकर तक की 4 कि.मी. की सड़क का पूर्णत: चौड़ीकरण किया गया। इस उत्कृष्ट कार्य के लिए झरनदल्ली खदान को सेल स्तर पर पुरस्कृत होने पर खदान के मुखिया मुख्य महा प्रबंधक तपन सूत्रधार ने कहा की यह लौह अयस्क खदान समूह के लिए बड़े गर्व की बात है। हमारे इस प्रयास को सेल स्तर पर सराहा गया।

 उन्होंनेअपने संबोधन में यह भी कहा की हमें इसी तरह लगातार सुरक्षा के प्रयास करते रहना है जिससे हमारे कर्मचारी तथा मशीनों की सुरक्षा बनी रहे एवं उत्पादन के कीर्तिमान को भी कायम रखे। सबका सामूहिक प्रयास सदैव सफलता की चरम को छुयेगा एवं देश में लौह अयस्क खदान समूह का नाम हमेशा ऊँचा रहेगा। संबोधन के अंत में उन्होंने झरनदल्ली खदान के समस्त नियमित कर्मचारियों एवं ठेका श्रमिकों को बधाई दी गई तथा सुरक्षा के प्रति निरंतरता पर ध्यान आकृष्ट कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *