कल विंध्य कॉरिडोर की नींव रखेंगे गृहमंत्री:3 साल बाद मिर्जापुर पहुंचेंगे शाह

UP

(www.arya-tv.com)रविवार दोपहर में आप विंध्यवासिनी मां के दर्शनों के लिए मिर्जापुर आने की सोच रहे हैं तो जरा संभल के…दरअसल, देश के गृहमंत्री अमित शाह और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को 2 घंटे मिर्जापुर में रहेंगे। इस दौरान अमित शाह मां विंध्यवासिनी के दर्शन भी करेंगे। सुरक्षा व्यवस्था की वजह से आम लोगों को 2 घंटे तक दर्शन की मनाही होगी। इसी दौरान अमित शाह मिर्जापुर में विंध्य कॉरिडोर की शिलान्यास भी करेंगे। इस दौरान 288 करोड़ की 90 योजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास करेंगे। मिर्जापुर में अमित शाह का तीन साल में दूसरा दौरा है।

2000 पुलिसकर्मी रहेंगे सुरक्षा में, ड्रोन से रखी जाएगी नजर

गृहमंत्री अमित शाह के आने पर सुरक्षा व्यवस्था की भी पुख्ता तैयारियां की गई हैं। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक 1 अगस्त को भारी वाहनों का प्रवेश मिर्जापुर में बंद रहेगा। उनके लिए वैकल्पिक रास्तों की व्यवस्था की जा रही है। जबकि 2.40 मिनट पर गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी मिर्जापुर पहुंचेंगे। ऐसे में उनकी सुरक्षा में 2000 पुलिसकर्मियों को लगाया गया है। जबकि एटीएस के जवान और डॉग स्क्वॉयड भी जगह-जगह मौजूद रहेगा। ऐसे में लगभग 2 घंटे दोपहर 2.40 से 4.40 तक पुख्ता सुरक्षा रहेगी।

ऐसा है गृहमंत्री का प्रोटोकॉल

1 अगस्त को गृहमंत्री अमित शाह लखनऊ एयरपोर्ट से दोपहर 1:25 पर मिर्जापुर के लिए उड़ान भरेंगे। 2.40 पर देवरी हेलीपैड पर आएंगे। इसके बाद दोपहर 3.10 से 3:25 तक माता विंध्यवासिनी के धाम में भूमि पूजन और आदिशक्ति माता विंध्यवासिनी का दर्शन पूजन करेंगे। इसके बाद वह 3.37 पर राजकीय इंटर कालेज के मैदान में लोकार्पण और विभिन्न योजनाओं का घोषणा करेंगे। करीब 1 घंटा तक जनसभा के लिए तय किया गया है । इसके बाद वहां 4:40 पर गोवर्धनदास बिनानी कालेज में बने हेलीपैड के लिए रवाना होंगे। जहां से वह वाराणसी बाबतपुर एयरपोर्ट के लिए उड़ जाएंगे।

पुलिस आज कर सकती है रिहर्सल
गृहमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था में कोई कमी न रह जाए इसके लिए पुलिस आज रिहर्सल भी कर सकती है। संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस ड्रोन वगैरह की रिहर्सल कर ही रही है। साथ ही पुलिस की टुकड़ियां डॉग स्क्वॉयड के साथ भी घूम रही है।

झालरों से सजा मंदिर, जर्मन हैंगर टेंट में होगी जनसभा

गृहमंत्री अमित शाह के दौरे को लेकर रंग-बिरंगी झालरों से पूरा मंदिर परिसर सजाया जा रहा है। फूल पत्ती का भी उपयोग किया जा रहा है। हर व्यवस्था पर अधिकारी नजर रख रहे हैं। वहीं जीआईसी मैदान में होने वाली जनसभा के लिए जर्मन हैंगर के दो पंडाल तैयार किए जा रहे हैं, ताकि उसमे भारी बारिश में भी 5000 लोग बैठ सके। अमित शाह दर्शन कार्यक्रम के बाद जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

288 करोड़ की 90 योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे

वाराणसी के काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर मिर्जापुर में विंध्य कॉरिडोर की योजना बीते साल से ही योगी सरकार तैयार कर रही थी। जिसे अब एक अगस्त को गृहमंत्री मूर्तरूप देंगे। साथ ही रोपवे का उद्घाटन भी गृहमंत्री करेंगे।

3 साल बाद मिर्जापुर पहुंचेंगे अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह भले ही 2014 में यूपी चुनाव प्रभारी रहे थे, लेकिन तब वह मिर्जापुर नहीं पहुंच पाए थे। लेकिन उसके बावजूद उनके मैनेजमेंट से भाजपा का सहयोगी दल अपना दल (एस) से अनुप्रिया पटेल जीती थीं। अमित शाह मिर्जापुर में 4 जुलाई 2018 को पहली बार आए थे। उस समय वह भाजपा के प्रांतीय कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होने आए थे।

क्या है विंध्य कॉरिडोर
प्रदेश सरकार ने 30 अक्टूबर 2020 को काशी विश्वनाथ कॉरिडोर की तर्ज पर मिर्जापुर में विंध्य कॉरिडोर के निर्माण को मंजूरी दी थी। इसकी कुल लागत 331 करोड़ रुपए है। इसके तहत मंदिर से लगे चार प्रमुख मार्गों का चौड़ीकरण होगा। यहां परिक्रमा पथ के लिए आसपास के 92 भवन ध्वस्त हो चुके हैं। निर्माण पूरा होने के बाद मंदिर से गंगा के दर्शन और गंगा तट से मां विंध्यवासिनी के दर्शन होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *