बाराबंकी में दलित लड़की से रेप का मामला:तीन दिनों से भूख प्यासा है पीड़ित परिवार

UP

(www.arya-tv.com) उत्तर प्रदेश में बाराबंकी जिले में दुष्कर्म के बाद एक दलित नाबालिग की उसी के खेत में हत्या कर दी गई। बुधवार की शाम लड़की धान काटने खेत गई थी, तभी उसके साथ ये घटना की गई। तीन दिन से पीड़ित के घर खाना नहीं बना है। पिता हाथ फैलाकर लोगों से कह रहा है कि प्रशासन खाने का इंतजाम कर दे। मेरा परिवार भूखा है। पिता ने जिला प्रशासन पर जबरन बेटी का अंतिम संस्कार कराने का आरोप लगाया है। कहा कि हिंदू धर्म में नाबालिग को दफन किया जाता है, लेकिन पुलिस वालों ने जबरन दाह संस्कार करा दिया। मामले की सीबीआई जांच की मांग पीड़ित परिवार ने की है। कहा कि पुलिस ने अभी तक आरोपियों को नहीं पकड़ा है।

पिता का आरोप- गांव का एक लड़का करना चाहता था शादी
मृतक लड़की के पिता ने बताया कि गांव में रहने वाले सभी लोग अनुसूचित जाति के हैं। गांव का एक लड़का मेरी बेटी से जबरन शादी करना चाहता था। लेकिन मेरी बेटी नाबालिग थी, इसलिए मैंने शादी करने से इंकार कर दिया था। लेकिन वे लोग परेशान करने लगे थे। उस समय हमने पुलिस में शिकायत की तो तीन लोग लोग पकड़े गए। तभी उन लोगों ने हमें धमकी दी थी कि वह बदला लेंगे। पीड़ित के पिता ने आरोप लगाया कि उनकी लड़की के साथ जो वारदात हुई वह किसी ने अकेले नहीं की इसमें दो से तीन लोग शामिल हैं। पिता ने बताया कि खेत में लड़की के पास कैथा का फल भी मिला। जिसका इस्तेमाल उसका मुंह बंद करने के लिए किया गया था।

निर्दोष लोगों को पुलिस पीट रही
पिता का आरोप है कि गांव के कुछ लोगों को पुलिस ने उठाया है। लेकिन वे लोग घटना में शामिल हो सकते हैं, ऐसा मुझे नहीं लगता। पुलिस दोषियों को पकड़े और निर्दोष लोगों को न फंसाए। वरना बाद में लोग मुझे यहां रहने नहीं देंगे। पिता ने कहा कि मैं मेहनत मजदूरी करके किसी तरह अपने परिवार का पेट पाल रहा था। अब घर में खाने-पीने के लिए कुछ नहीं बचा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *