5G टेस्टिंग में 1GB/सेकेंड से अधिक की स्पीड मिली, जियो फाइबर के 30 लाख एक्टिव यूजर्स

Technology

(www.arya-tv.com)रिलायंस इंडस्ट्रीज की 44 वीं AGM (एनुअल जनरल मीटिंग) हुई। कोरोना की वजह यह दूसरी बार हुआ है जब मीटिंग वर्चुअल हुई है। इस दौरान चेयरमैन मुकेश अंबानी ने भरोसा जताया कि देश में 5G की शुरुआत रिलायंस जियो ही करेगा।

रिलायंस जियो ने मॉर्डन और सबसे अलग 5G टेक्नोलॉजी को विकसित की है, जो वायरलेस ब्रॉडबैंड के लिए बड़ी उपलब्धि है। मुकेश अंबानी ने बताया कि 5G टेस्टिंग में जियो ने 1GB/सेकंड से अधिक की स्पीड हासिल की। जियो के ‘मेड इन इंडिया’ सॉल्यूशन को मुकेश अंबानी ने विश्व स्तर का बताया है।

5G कनेक्टिविटी पर तेजी से काम हो रहा

हाल ही में 5G टेस्टिंग के लिए कंपनियों को स्पेक्ट्रम जारी किया गया था। जियो दिल्ली, मुंबई समेत कई शहरों में 5जी टेक्नोलॉजी की टेस्टिंग कर रही है। पूरे देश में फैले डेटा सेंटर्स की मदद से 5G का सबसे पहले नेटवर्क इंस्टॉल जियो ने किया है। साथ ही रिलायंस जियो के मजबूत नेटवर्क आर्किटेक्चर की वजह से 4G से 5G में आसानी से बदला जा सकेगा।

5G से हेल्थकेयर में मदद मिलेगी
आत्मनिर्भर भारत का जिक्र करते हुए रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि “एंड-टू-एंड 5G इकोसिस्टम विकसित करने के लिए हम अपने पार्टनरों के साथ 5G टूल्स को विकसित कर रहे हैं। इससे हेल्थकेयर, शिक्षा, मनोरंजन, रिटेल और अर्थव्यवस्था के लिए बेहतरीन ऐप्लीकेशन बनाने में आसानी होगी। ताजा उदाहरण 5G कनेक्टेड एम्बुलेंस का है, इसे ‘सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल’ के साथ मिलकर रिलायंस जियो विकसित कर रहा है।

5G से जियो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस
जियो भारत को 5G एक्सपोर्ट का एक वैश्विक हब बनाने की कोशिश करेगा। उनका कहना है कि एक बार जब जियो का 5G सॉल्यूशन भारत में सफल होने के बाद, दुनियाभर में भेजा जाएगा। जियो अब 5G से AI(आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस /ML(मशीन लर्निंग) और ब्लॉकचेन जैसी कई इंडस्ट्रीज में एक्सपर्ट हो गया है।

जियो फाइबर की उपलब्धि

जियो पिछले 2 सालों में 20 लाख जगहों पर जियो फाइबर को लगा चुका है। वहीं 30 लाख घरों में इसके एक्टिव यूजर्स हैं। इसके साथ जियो भारत में सबसे बड़ा और सबसे फास्ट ब्रॉडबैंड ऑपरेटर बन गया है।

जियो फाइबर की तुलना दूसरे बॉडबैंड से

जियो फाइबर ब्रॉडबैंड का प्लान – एक महीने वाले 699 रुपए के ऑफर में 100MB/सेकंड की स्पीड साथ ही अनलिमिटेड कॉलिंग मिलती है।

टाटा स्काई ब्रॉडबैंड का प्लान – यह रिलायंस की तुलना में 251 रुपए महंगा है। इस प्लान को 950 रुपए से ले सकते हैं। वहीं इसमें भी 100MB/सेकंड की स्पीड साथ ही अनलिमिटेड कॉलिंग मिलती है।

एयरटेल ब्रॉडबैंड का प्लान – यह जियो फाइबर की तुलना में 100 रुपए महंगा है। इसे एक महीने के लिए 799 रुपए में ले सकते हैं। वहीं इसमें भी 100MB/सेकंड की स्पीड साथ ही अनलिमिटेड कॉलिंग मिलती है।

BSNL ब्रॉडबैंड का प्लान– यह जियो फाइबर की तुलना में 100 रुपए महंगा है। इसे एक महीने के लिए 799 रुपए में ले सकते हैं। वहीं इसमें भी 100MB/सेकंड की स्पीड साथ ही अनलिमिटेड कॉलिंग मिलती है।

गूगल क्लाउड पर आधारित होगा जियो का 5G

गूगल के SEO सुंदर पिचाई कहा है कि गूगल क्लाउड और जियो के बीच नई 5G पार्टनरशिप से 1 अरब से ज्यादा भारतीयों को तेज इंटरनेट सुविधा मिलेगी। गूगल की इन टेक्नोलॉजी के जरिए रिलायंस के रिटेल कारोबार ग्राहकों की डिमांड पूरी कर सकेगा।

सुंदर पिचाई ने आगे कहा कि गूगल क्लाउड की अत्याधुनिक (cutting-edge) टेक्नोलॉजी से जियो के 5G सॉयूल्शंस को तो ताकत मिलेगी ही साथ ही रिलायंस के दूसरे कारोबारों जैसे रिलायंस रिटेल, जियो मार्ट, जियो सावन और जियो हेल्थ की जरुरतें पूरी होंगी।

गौरतलब है कि जियो वर्तमान में दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल डेटा कैरियर है जो हर महीने 630 करोड़ GB डेटा हैंडल करती है। देश में सिर्फ 1 साल में डेटा खपत में 45 फीसदी की बढ़त देखने को मिली। यह इस बात का संकेत है कि भारत कितनी तेजी के साथ डिजिटाइजेशन में आगे बढ़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *