नगरोटा के बाद भारत तल्ख:विदेश मंत्रालय ने पाक अफसर को बुलाकर नाराजगी जताई

National

(www.arya-tv.com)नगरोटा एनकाउंटर के दो दिन बाद शनिवार को भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान हाईकमीशन के अफसर को तलब किया। दो टूक शब्दों में कहा कि पाकिस्तान आतंकियों के समर्थन की नीति बंद करे। आतंकी गुट पाकिस्तान को पनाहगाह बनाए हुए हैं। वहीं से वे दूसरे देशों में ऑपरेट करते हैं। पाक सरकार अपनी जमीन पर आतंकी गुटों का सफाया करे।

भारत ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त से यह भी कहा कि शुरुआती रिपोर्ट्स में साफ हुआ है कि नगरोटा में जो आतंकी मारे गए, उनका ताल्लुक जैश-ए-मोहम्मद से था। जैश 2019 में पुलवामा समेत भारत में कई आतंकी घटनाओं को अंजाम दे चुका है। नगरोटा में आतंकियों के पास से जो साजोसामान बरामद हुआ है, उससे साफ है कि जम्मू-कश्मीर में चुनावी प्रक्रिया में बाधा डालने की साजिश थी।

पाक के हैंडलर से संदेश मिल रहे थे
जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में 19 नवंबर को हुए एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकी मारे गए थे। मारे गए आतंकी पाकिस्तान में बैठे हैंडलर से चैट कर रहे थे। वहीं से इन्हें निर्देश दिए जा रहे थे। आतंकियों के मोबाइल फोन की पड़ताल से यह खुलासा हुआ है।

इससे पहले, सुरक्षाबलों ने आतंकियों के पास से पाकिस्तान में बने MPD-2505 मॉडल के मोबाइल हैंडसेट बरामद किए। इनमें पाकिस्तान के सिम कार्ड हैं। बरामद मोबाइल हैंडसेट एंड्रॉयड फोन नहीं हैं। खास बात यह है कि इनमें की-एप भी नहीं है। इनमें केवल टेक्स्ट मैसेज से की गई चैट मौजूद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *