आईडीबीआई बैंक ने जोरदार तरीके से वापसी की

Business
  • आईडीबीआई बैंक ने जोरदार तरीके से वापसी की
  • 13 तिमाहियों के बाद वित्त वर्ष 2020 की चैथी तिमाही में 135 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दर्ज किया
  • वित्त वर्ष 2020 की चैथी तिमाही और वर्ष के वित्तीय परिणाम

(www.arya-tv.com)पिछली 13 तिमाहियों के दौरान नेट लॉस की रिपोर्ट करने के बाद क्यू4 एफवाय 2020 के लिए बैंक ने दर्ज किया 135 करोड़ रुपए का पीएटी। क्यू4 एफवाय 2020 के लिए परिचालन लाभ (1,874 करोड़ रुपए) में 34 फीसदी की सालाना वृद्धि और 47 फीसदी की तिमाही आधार पर वृद्धि। क्यू4 एफवाय 2020 के लिए एनआईआई 2,356 करोड़ रुपए, सालाना आधार पर 46 प्रतिशत की वृद्धि और 54 फीसदी की तिमाही आधार पर वृद्धि। क्यू4 एफवाय 2020 के लिए एनआईएम 3.80 प्रतिशत पर, सालाना आधार पर 154 बीपीएस की ग्रोथ, तिमाही आधार पर 153 बीपीएस की ग्रोथ। सीएएसए रेशियो 47.74 प्रतिशत पर, सालाना आधार पर 520 बीपीएस वृद्धि, तिमाही आधार पर 9 बीपीएस की वृद्धि। बैंक ने क्यू4 एफवाय 2020 के लिए सभी पीसीए पैरामीटर्स को हासिल किया है, पूरे वर्ष के लिए आरओए को छोड़कर। शुद्ध एनपीए 4.19 प्रतिशत पर। सीआरएआर 13.31 फीसदी पर। पीसीआर 93.74 प्रतिशत, बैंकिंग उद्योग में सबसे अधिक।

वित्तीय वर्ष 2020 की चैथी तिमाही के लिए शुद्ध लाभ 135 करोड़ रुपए, क्यू4 एफवाय 2019 में 4,918 करोड़ रुपए के नुकसान की तुलना में। ( वित्तीय वर्ष 2020 के लिए शुद्ध घाटा 12,887 करोड़ रुपए, 2019 में यह राशि 15,116 रुपए थी) वित्तीय वर्ष 2020 की चैथी तिमाही के लिए परिचालन लाभ, 34 फीसदी सुधर कर 1,874 करोड़ रुपए हो गया, जो कि वित्तीय वर्ष 2019 की चैथी तिमाही के लिए 1,396 करोड़ रुपए था। वित्तीय वर्ष 2020 के लिए परिचालन लाभ 5,112 करोड़ रुपए, वर्ष 2019 में यह 4,052 करोड़ रुपए था। शुद्ध ब्याज आय वित्तीय वर्ष 2020 की चैथी तिमाही के लिए 46 फीसदी सुधर कर 2,356 करोड़ हो गई जबकि वित्तीय वर्ष 2019 की चैथी तिमाही के लिए यह 1,609 करोड़ रुपए थी।

वित्तीय वर्ष 2020 के लिए शुद्ध ब्याज आय 6,978 करोड़ रुपए रही, जबकि वर्ष 2019 में शुद्ध ब्याज आय थी 5,906 करोड़ रुपए। शुद्ध ब्याज मार्जिन वित्तीय वर्ष 2020 की चैथी तिमाही के लिए 154 बीपीएस सुधर कर 3.80 फीसदी हो गया, वित्तीय वर्ष 2019 की चैथी तिमाही के 2.26 फीसदी की तुलना में। वित्तीय वर्ष 2020 में शुद्ध ब्याज मार्जिन सुधर कर 2.61 फीसदी हुआ, वर्ष 2019 में यह 2.03 प्रतिशत था। कोस्ट ऑफ डिपाॅजिट, वित्तीय वर्ष 2020 की चैथी तिमाही के लिए 58 बीपीएस सुधर कर 4.82 फीसदी हो गया, वित्तीय वर्ष 2019 की चैथी तिमाही के लिए यह 5.40 फीसदी था। वित्तीय वर्ष 2020 के लिए कोस्ट ऑफ डिपाॅजिट सुधरकर 5.08 प्रतिशत पर, वर्ष 2019 में यह 5.44 था।